सामान्य किसान का बेटा बना जज…

157

मुंबई: परभणी जिले के बेलखेड़ा गांव के निवासी और गरीब किसान के बेटे विष्णु गीते जज बन गए, विष्णु की यह उपलब्धी ग्रामीण युवाओं के लिए प्रेरणा का विषय बन गया है।

महाराष्ट्र लोकसेवा आयोग द्वारा इस वर्ष में न्यायाधीश पद के लिए ली गई परीक्षा का परिणाम शनिवार को घोषित हुआ। विष्णु के पिताजी दत्ताराव गीते मामूली किसान है और वह अभी पुणे में रहते है। www.esakal.com में प्रकाशित खबर के मुताबिक, काम की तलाश में 30 साल पहले दत्ताराव गीते ने गांव छोड़ने का फैसला किया, क्योंकि उनके पास छोटा सा खेत था और उस पर गुजरबसर करना मुश्किल हो रहा था। खुद अनपढ़ होने के बावजूद दत्ताराव ने बच्चों की शिक्षा को प्राथमिकता दी। विष्णु गीते ने पुणे में माध्यमिक और बीए की डिग्री हासिल की और उसके बाद आय.एल.एस.विधि महाविद्यालय में दाखिला लिया। 2012 में उन्होंने कानून की डिग्री पूरी की और प्रो. गणेश शिरसाट के मार्गदर्शन में विष्णु गीते ने महाराष्ट्र लोकसेवा आयोग परीक्षा के लिए दिन रात मेहनत करके जज बने। उनकी चारों तरफ सराहना हो रही है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here