किसानों का आरोप : गन्ना माफिया को मिल रहा है बढ़ावा

757

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

लखनऊ : चीनी मंडी

उत्तर प्रदेश में पेराई अंतीम चरण में पहुंच चुकी है, लेकिन अभी भी किसानों का गन्‍ना खेतों में सुख रहा है। सरजू सहकारी चीनी मिल बेलरायां के क्षेत्र की गन्ने की फसल खेतों से लेकर क्रय केंद्रों तक सूख रही है। मील प्रबंधन पेराई करने में नाकाम साबीत हो रहा है, इससे किसानों में काफी आक्रोश है। प्रबंधन द्वारा चीनी मिल बंद करने की नोटिस जारी करने से किसानों में हड़कंप है।

किसानों की सुविधा के लिए चीनी मिल के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में दर्जनों गन्ना क्रय केंद्र संचालित कर गन्ना सप्लाई को लेकर बाकायदा कैलेंडर तैयार कर पर्चियां वितरण करने का प्रावधान है, लेकिन किसान आरोप लगाते है की चीनी मिल के अधिकारी एवं कर्मचारी छोटे किसानों का शोषण कर उन्हें समय से पर्चियां वितरण नहीं कर गन्ना माफिया को बढ़ावा देते हैं। सरजू सहकारी चीनी मिल के मुख्य गन्ना अधिकारी डमीनेश कुमार राय ने गन्ना किसानों के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि, चीनी मिल बंद करने की अभी पहली नोटिस जारी की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here