प्रदेश में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 05 प्रगतिशील गन्ना किसान, 05 सहकारी गन्ना विकास समितियाँ एवं 03 चीनी मिलों को मिला पुरस्कार

140

लखनऊ: प्रदेश के मा. मुख्यमंत्री, उत्तर प्रदेश, योगी आदित्यनाथ द्वारा गन्ना किसानों, गन्ना समितियों एवं चीनी मिलों को उत्कृष्ट कार्य करने हेतु प्रोत्साहन देने के आदेशों एवं मा. मंत्री, चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास, श्री सुरेश राणा द्वारा प्रदत्त निर्देशों के क्रम में प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एवं चीनी, श्री संजय आर. भूसरेड्डी द्वारा प्रदेश में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 03 चीनी मिलों, 05 सहकारी गन्ना विकास समितियों एवं 05 प्रगतिशील गन्ना कृषकों को प्रोत्साहित करने की दृष्टि से उत्कृष्ट कार्य योजना वर्ष 2020-21 हेतु प्रथम, द्वितीय व तृतीय पुरस्कार विजेताओं के नामों की घोषणा की गयी है।
इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए प्रदेश के आयुक्त, गन्ना एवं चीनी श्री संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि शासन की मंशानुसार चीनी उद्योग एवं गन्ना विकास से संबंधित विकास कार्यों को गति प्रदान करने तथा गन्ना कृषकों, सहकारी गन्ना विकास समितियों एवं चीनी मिलों को प्रोत्साहित करने तथा उत्कृष्ट कार्यों हेतु इनके मध्य स्वस्थ प्रतिस्पर्धा उतपन्न करने के उद्देश्य से इस योजना को प्रदेश में लागू किया गया है।

श्री भूसरेड्डी ने बताया कि इस योजनान्तर्गत कृषक संवर्ग में गन्ना कृषकों के मध्य गन्ना उत्पादकता एवं विभिन्न अन्य मानकों के आधार पर श्री अचल कुमार पुत्र उधौश्याम-लखीमपुर को प्रथम पुरस्कार विजेता घोषित किया गया है। द्वितीय पुरस्कार हेतु श्री गिरीश कुमार पुत्र अमर सिंह-बुलन्दशहर एवं तृतीय पुरस्कार हेतु श्री नरेन्द्र बहादुर सिंह पुत्र रुद्र प्रताप-आजमगढ़, श्री अनिल कुमार पुत्र जगवीर मल्ल-कुशीनगर एवं अयोध्या प्रसाद पुत्र चरनलाल-शाहजहाँपुर के नामों की घोषणा संयुक्त विजेता के रूप में की गयी है। योजनान्तर्गत कृषकों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार हेतु क्रमशः रू.51,000, रू.31,000, रू.21,000 की धनराशि एवं स्मृति चिह्न तथा प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया जाना निर्धारित है।

उन्होंने यह भी बताया कि योजनान्तर्गत सहकारी गन्ना विकास समितियों के मध्य आवंटित लक्ष्य, ऋण वितरण, टी.डी.एस., रिफण्ड एवं विभिन्न अन्य मानकों के आधार पर सहकारी गन्ना विकास समिति लि.खतौली-मुजफ्फरनगर को प्रथम, सहकारी गन्ना विकास समिति,अफजलगढ़-बिजनौर एवं सहकारी गन्ना विकास समिति लि., बहेड़ी-बरेली को द्वितीय (संयुक्त विजेता) एवं सहकारी गन्ना विकास समिति लि., मन्सूरपुर-मुजफ्फरनगर एवं सहकारी गन्ना विकास समिति लि. स्वार-रामपुर को तृतीय (संयुक्त विजेता) का पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।योजनान्तर्गत समितियों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार स्वरूप क्रमशः रू.51,000, रू.31,000, रू.21,000 की धनराशि एवं स्मृति चिह्न तथा प्रशस्ति-पत्र प्रदान किया जाना निर्धारित है।
प्रदेश में संचालित चीनी मिलों में से परफार्मेंस एवं विभिन्न अन्य मानकों के आधार पर चीनी मिल रौजागाँव-अयोध्या को प्रथम, चीनी मिल लोनी-हरदोई को द्वितीय एवं चीनी मिल मोतीनगर-अयोध्या को तृतीय पुरस्कार प्रदान किये जाने की घोषणा की गयी है। चीनी मिलों को स्मृति-चिह्न तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जायेगा।

गन्ना आयुक्त ने यह भी बताया कि इस योजना के तीनों संवर्गों के पुरस्कारों का वितरण मा. मुख्यमंत्री जी के कर-कमलों द्वारा लखनऊ में विभाग द्वारा आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में किया जायेगा।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here