कुछ किसानों की गन्ना माफियाओं के साथ सांठगांठ…

Listen to this article

कासगंज : पहले ही बकाया भुगतान से परेशान किसानों के सामने अब गन्ना माफियाओं ने मुसीबत खड़ी कर दी है। कासगंज जिले में गन्ना माफियाओं की सक्रियता सामने आने के बाद विभाग ने बड़े स्तर पर जांच कराई है, जिसमे लगभग दो हजार से अधिक किसानों की पर्चियां संदेह के घेरे में हैं। अब सरकार गन्ना माफियाओं पर क्या एक्शन लेगी इसपर सबकी नजरें टिकीं है। सबसे चौका देने वाली बात यह है की, माफियाओं के साथ कुछ किसानों के सांठगांठ का खुलासा हुआ है।

जांच में पाया गया कि चार सौ से अधिक किसान गन्ना माफियाओं से सांठ गांठ कर गन्ने के बिचौलिये बने हुए थे। जांच टीमों ने पाया कि गन्ना समिति में पंजीकरण कराने वाले किसानों ने बड़ी हेराफेरी की है। दो हजार से अधिक जालसाजी कर गन्ना बिक्री की पर्ची के लिए पंजीकरण कराने वाले मिले। जो किसान संदेह के घेरे में हैं, भूलेखों से मिलान न होने पर उनके पंजीकृत रद्द कर दिए जाएंगे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here