कर्नाटक: सरकार द्वारा माय शुगर फैक्ट्री संचालित करने की मांग को लेकर किसानों ने निकाली रैली

101

मंड्या: कर्नाटक राज्य रायथा संघ के सदस्यों ने मांड्या में एक मोटरसाइकिल रैली निकाली और राज्य सरकार से मिल शुगर फैक्ट्री चलाने की मांग करते हुए सोमवार को डिप्टी कमिश्नर के कार्यालय की घेराबंदी करने का प्रयास किया। प्रदर्शनकारी सिल्वर जुबली पार्क के पास जमा हो गए और बेंगलुरु-मैसुरु राजमार्ग पर एक मोटरसाइकिल रैली निकाली और राज्य और केंद्र सरकारों के खिलाफ नारेबाजी की। वे डीसी कार्यालय में पहुंचे और पुलिस के हस्तक्षेप करने पर अंदर घुसने की कोशिश की। इसको लेकर प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच तीखी नोकझोंक हुई।

प्रदर्शनकारियों ने राज्य सरकार से 4,000 रुपये प्रति टन गन्ने के उचित पारिश्रमिक मूल्य (एफआरपी) की मांग के लिए केंद्र पर दबाव बनाने का आग्रह किया।उन्होंने चेतावनी दी कि, सरकार को तुरंत किसानों की मांगों को पूरा करना चाहिए अन्यथा मैसूर शहर और आसपास के जिलों में दशहरा समारोह के दौरान विरोध प्रदर्शन करना अनिवार्य हो जाएगा। उन्होंने मांग की कि, कृष्णराज सागर (केआरएस) बांध के आसपास 20 किलोमीटर के दायरे में खनन पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगाया जाए और किसान विरोधी नीतियों को वापस लिया जाए। इस बीच माय सुगर गन्ना उत्पादक संघ के सदस्यों ने राज्य सरकार द्वारा कारखाना चलाने की मांग को लेकर डीसी कार्यालय के सामने धरना दिया।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here