उत्तर प्रदेश में वापस से गरमाया गन्ना भुगतान का मुद्दा

127

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गन्ना बकाया का मुद्दा फिर गरमाया हुआ है। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन ने उत्तर प्रदेश सरकार को किसानों का बकाया समय पर भुगतान नहीं करने पर आंदोलन की चेतावनी दी है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखे पत्र में राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के संयोजक वीएम सिंह ने कहा कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2017 के यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान कहा था कि गन्ना किसानों को भुगतान 14 दिनों में किया जाएगा, या ब्याज दिया जाएगा यदि राशि का भुगतान समय पर नहीं किया जाता है।लेकिन साढ़े चार साल बीत जाने के बावजूद, वादा पूरा नहीं किया गया है।

उन्होंने कहा, किसानों ने चुनाव में भाजपा को इस उम्मीद में वोट दिया था कि उनकी समस्याओं का समाधान हो जाएगा। वादे पूरे नहीं होने पर किसान 6-12 जुलाई तक जिलाधिकारियों के कार्यालयों, अनुमंडलाधिकारियों और तहसील कार्यालयों में धरना प्रदर्शन करेंगे। इसके बाद 15 जुलाई को गन्ना आयुक्त कार्यालय में आंदोलन किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश सरकार का कहना है की उनके कार्यकाल में किसानों को रिकॉर्ड गन्ना भुगतान किया गया है। राज्य सरकार अब तक 45.44 लाख से अधिक गन्ना किसानों को 1,37,518 करोड़ रुपये का रिकॉर्ड भुगतान कर चुकी है। यह बसपा सरकार से दोगुना और सपा सरकार से डेढ़ गुना ज्यादा है।

हालही में गन्ना मंत्री सुरेश राणा ने भी कहा था की गन्ना भुगतान नहीं करने वाली की मिलों पर सरकार नजर रखी हुई है।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here