चीनी निर्यात को लेकर जानिए ISMA द्वारा लेटेस्ट अपडेट

202

नई दिल्ली : इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (ISMA) के अनुसार, इस सीजन में चीनी निर्यात पिछले चीनी सीजन की तुलना में 11.53% अधिक हुई है।वर्तमान 20-21 सीजन के पहले 11 महीनों यानी 1 अक्टूबर, 2020 से 31 अगस्त, 2021 की अवधि में देश से लगभग 66.70 लाख टन चीनी का भौतिक रूप से निर्यात किया गया है। यह पिछले सीजन की इसी अवधि के दौरान निर्यात किए गए 55.78 लाख टन की तुलना में लगभग 11 लाख टन अधिक है। चालू सीजन के लिए उपरोक्त आंकड़ो में 2019-20 सीजन के एमएईक्यू के तहत किया गया लगभग 4.49 लाख टन निर्यात भी शामिल है, जिसे 31 दिसंबर, 2020 तक बढ़ा दिया गया था।

इसके अलावा, 6 सितंबर, 2021 की स्थिति के अनुसार, लगभग 2.29 लाख टन चीनी बंदरगाहों पर है। यह चीनी या तो जहाजों पर लाद दी गई है, या गोदामों में है और जहाजों के आने का इंतजार किया जा रहा है। इसका मतलब यह होगा कि मौजूदा सीजन में 20 दिन और बचे हैं, और कुल निर्यात 70 लाख टन को पार कर सकता है। अब तक के कुल अनुमानित निर्यात में से लगभग 34.28 लाख टन कच्ची चीनी, 25.66 लाख टन सफेद चीनी और 1.88 लाख टन परिष्कृत चीनी निर्यात की गई है। इसके अतिरिक्त, चीनी मिलों ने रिफाइनिंग और निर्यात के लिए बंदरगाह स्थित रिफाइनरियों को लगभग 7.17 लाख टन कच्ची चीनी भेजी है।

भारत से चीनी मुख्य रूप से इंडोनेशिया, अफगानिस्तान, श्रीलंका, सोमालिया, संयुक्त अरब अमीरात, चीन, सऊदी अरब, सूडान आदि देशों को निर्यात की जाती है, जिसमें इंडोनेशिया 29% हिस्सेदारी के साथ सबसे आगे है और अफगानिस्तान कुल निर्यात का 13% है। वर्तमान में, चीनी की अंतरराष्ट्रीय कीमतें चार साल के उच्चतम स्तर लगभग 20 सेंट/पौंड पर हैं। ब्राजील में पिछले 90 वर्षों में अब तक के सबसे भीषण सूखे के कारण ब्राजील का अगला सीजन भी प्रभावित हो सकता है। इसके कारण, ISO सहित कई वैश्विक एजेंसियों ने 1 अक्टूबर, 2021 से शुरू होने वाले अगले 2021-22 सीजन में 4 से 5 मिलियन टन के उच्च चीनी कमी का अनुमान लगाया है।

इसके अलावा, थाईलैंड में चीनी उत्पादन पिछले वर्षों की तुलना में अगले सीजन में बढ़ने की संभावना है, लेकिन फिर भी यह अपने सामान्य उत्पादन 14 – 14.5 मिलियन टन से लगभग 3 – 3.5 मिलियन टन कम होगा। थाईलैंड की चीनी जनवरी 2022 के बाद ही बाजार में आएगी। इसका मतलब यह होगा कि भारतीय चीनी मिलों के पास अगले कुछ महीनों में जनवरी, 2022 तक और उसके बाद अप्रैल, 2022 तक ब्राजील की चीनी के बाजार में आने से पहले अपनी अधिशेष चीनी का निर्यात करने का अच्छा अवसर होगा।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here