मोरादाबाद इलाके में बाढ़ से गन्ना फसल नष्ट: डीएम ने दिया राहत का वादा

चिनीमंडी मोरादाबाद : रामगंगा नदी को बाढ़ आने से ठाकुरदरा तहसील के कई गांवों में हजारों हेक्टर में फैली गन्ने की फसल बुरी तरह से प्रभावित हुई है । गन्ना किसानों के अनुसार, बाढ़ के पानी ने न केवल फसल को डुबोया है बल्कि खेतों को रेत से भी भर डाला है। ” जिला मजिस्ट्रेट राकेश कुमार सिंह ने बाढ़ प्रभावित गन्ना किसानों को मदत का आश्वासन दिया है ।

ठाकुरदरा तहसील, बलिआ, बहापुर, लालपुर, मलकपुर सेमली, रायपुर, मिरपुर मोहन, मिरपुर, मैदा, गथकपुर और सिहाली खड़ड़ गांव बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं, और इन गांवों से सड़क कनेक्टिविटी भी टूट गई है। ग्रामीण लोग आवाजाही के लिए स्थानीय प्रशासन द्वारा तैनात मोटरबोट का उपयोग कर रहे हैं। इसके अलावा, सुरजन नगर पुल ध्वस्त होने के बाद ठाकुरद्वारा-सहोरा (बिजनौर) सड़क पर यातायात पूरी तरह से बंद हो गयी है।

बाढ़ प्रभावित मिरपुर गांव के निवासी चरन सिंह ने कहा, “हमें पहले सूखे का सामना करना पड़ा है, और अब बाढ़ के पानी ने गन्ने की फसल को नुकसान पहुंचाया है। गन्ना ही आय का हमारा एकमात्र स्रोत है, जो नष्ट हो गया है। अब, किसान राज्य सरकार से मुआवजे पर निर्भर हैं। ” दिलारी निवासी हरिराम ने कहा, “कई कच्चे मकान बारिश से गिर गए हैं और गरीब ग्रामीणों ने स्कूल, भवनों में अपने परिवारों के साथ आश्रय लिया है। प्रशासन ने आवश्यक राहत सामग्री प्रदान की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here