इनकम टैक्स रिफंड का फ्रॉड SMS खाली कर सकता है आपका बैंक बैंलेंस

218

मुंबई: अगर आप आईटी रिटर्न फाइल करते हैं, तो आपको सतर्क रहना होगा। क्योंकि साइबर अपराधियों ने आपको ठगने के नए तरीके ढूंढ लिए हैं। यह बात सामने आयी है कि वे आयकर विभाग के अधिकारी बनकर आपके बैंक खाते का विवरण निकालते हैं और उसका इस्तेमाल करके आपको ठगते है।

Quickheal की पड़ताल के अनुसार, अपराधी ग्राहकों को फ़साने के लिए जाली SMS भेजते है जिनसे वे उनकी बैंक खाते की जानकारी प्राप्त करते है।

करदाताओं को भेजे गए संदेशों में, अपराधी उन्हें यह कहते हैं कि उनके पास एक निश्चित कर वापसी है और यह राशि शीघ्र ही उनके बैंक खाते में जमा कर दी जाएगी। संदेश में एक गलत बैंक खाता संख्या होती है और ग्राहक को एक लिंक पर सही खाता संख्या भेजने के लिए कहता है।

आपका ध्यान आकर्षित करने के लिए SMS को इस तरह बनाया जाता है की वो असली लगे और साथ ही उसमे गलत खाता संख्या होता है। बाद में आपको अगर गलत खाता नंबर है तो उसको वेरीफाई करने के लिए लिंक को क्लिक करने के लिए कहा जाता है। जिसको क्लिक करते ही लोग उनका शिकार बन जाते है।

आयकर विभाग ने लोगों को सलाह दी है कि वह माेबाइल फोन पर आने वाले किसी भी तरह के रिफंड से संबंधित मैसेज को बड़ी सावधानी से पढ़ें। आयकर विभाग ने ऐसे संदेशों और ईमेल के खिलाफ कई बार ग्राहकों को सचेत किया है। विभाग कभी भी क्रेडिट, डेबिट कार्ड, बैंक या अन्य वित्तीय खातों से संबंधित पिन, ओटीपी, पासवर्ड या इसी तरह की जानकारी ई-मेल, SMS या फोन कॉल के माध्यम से नहीं पूछता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here