गन्ना आपूर्ति तक चालू रहें चीनी मिल

998

Image Credits: patrika.com

मंडी धनौरा : गन्ना समिति के अध्यक्ष करतार ¨सह ने कहा गन्ना क्रय केन्द्रों के नाम गांव के नाम पर ही रखे जाएंगे। गन्ना आपूर्ति तक मिल को चालू रखें। क्षेत्र सामान्य निकाय के प्रतिनिधियों से समस्याओं की जानकारी कर उनके निस्तारण का आश्वासन दिया गया।

सहकारी गन्ना विकास समिति की वार्षिक समान्य प्रशासन की बैठक सतेन्द्र रिसोर्ट में हुई। समिति के अध्यक्ष ने कहा क्षेत्र में कुछ केन्द्रों के स्थान व सेंटरों के नाम में अंतर है। इस कारण काश्तकारों को असुविधा का सामना करना पड़ता है। अब गांव के नाम पर ही सेंटर का नाम रखा जाएगा। कर्मचारियों के वेतन को सातवें वेतन आयोग के आधार पर निर्धारित किए जाने का प्रस्ताव भी पास किया गया। कुछ लोगों ने गन्ना आपूर्ति तक मिल चालू रखने की बात कही। इसे सर्वसम्मिति से पास कर दिया गया। बैठक में दो वर्ष की लाभ व हानि व वर्तमान बजट पर भी चर्चा की गई।

सामान्य निकाय के प्रतिनिधियों ने अपने अपने क्षेत्र की समस्याओं से बोर्ड को रूबरू कराया। वेव शुगर के गन्ना महा प्रबंधक जगत वीर ¨सह ने सदन को गन्ना आपूर्ति की मिल चालू रखने का आश्वासन दिया। समिति के उपाध्यक्ष जन्म ¨सह, गन्ना विकास समिति के अध्यक्ष चौधरी चंचल ¨सह, गन्ना सचिव सौवीर ¨सह, बिट्टू चौधरी, विरेन्द्र ¨सह आदि मौजूद थे।

पैदावार बढ़ाने को उन्नत किस्म के बीज प्रयोग करें

कैसरा(मंडी धनौरा): सहकारी समिति के सहायक निबंधक कामेंद्र ¨सह ने कहा कि किसान उन्नत किस्म के बीजों का प्रयोग कर अधिक उत्पादन प्राप्त कर सकते है। गुणात्मक बीजों के उत्पादन के संबंध में भी जानकारी दी गई।

ग्राम आजमपुर में कृभको द्वारा किसान गोष्ठी का आयोजन किया गया। सहकारी समिति के सहायक निबंधक ने कहा किसान उन्नत तकनीक को अपनाकर अधिक मात्रा में उत्पादन प्राप्त कर सकते है। किसानों को बीज उत्पादन के तरीकों से रूबरू कराया गया। पशु चिकित्साधिकारी डा. विजेन्द्र शर्मा ने पशुओं में लगने वाले रोगों के लक्षण व उनसे बचाव के उपायों से पशुपालकों को रूबरू कराया।

नोएडा से आए कृभको के विपणन प्रबंधक श्रवण कुमार ने कहा कि कृभको किसानों के हितों में कार्य कर रहा है। कृषि वैज्ञानिक डा. विरेन्द्र कुमार ने बताया फसल के अधिक उत्पादन के लिए संतुलित मात्रा में उर्वरकों के प्रयोग की सलाह दी।

यहां सतपाल ¨सह, गजेन्द्र ¨सह, भूषण कुमार, कामेन्द्र ¨सह, जबर ¨सह, सरदार दर्शन ¨सह, डा. भजन लाल, ओमकार ¨सह, गंगासरन, राजविन्द्र ¨सह, मुकेश कुमार आदि मौजूद थे।

SOURCEJagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here