लॉकडाउन: गाजियाबाद जिला प्रशासन द्वारा चीनी समेत अन्य आवश्यक वस्तुओं की कीमत ‘फिक्स’

326

गाजियाबाद: लॉकडाउन के कारण कई जगह अधिक कीमतों सामान बेचे जाने की खबर आ रही है, जिसको लेकर प्रसाशन भी सख्त हुआ है।

लॉकडाउन का नाजायज फायदा उठाकर आवश्यक वस्तुओं की ज्यादा कीमतों पर बिक्री करनेवाले दुकानदारों की जांच के साथ साथ, गाजियाबाद जिला प्रशासन ने 21 वस्तुओं की दर सूची ‘फिक्स’ की है, जिन्हें घरेलू उपभोक्ताओं द्वारा हरदिन उपयोग किया जाता है। अधिकारियों ने कहा कि, उन्होंने 21 वस्तुओं के थोक और खुदरा मूल्य जारी किए हैं, जिनमें चीनी, दाल, तेल, चावल, नमक, सरसों का तेल और अन्य मसाले शामिल हैं।

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक, सिटी मजिस्ट्रेट शिव प्रकाश शुक्ला ने कहा की, हमने जिन 21 वस्तुओं की पहचान की है, वे भी ढीले / लूज पैकेट में बेचे जाते हैं और थोक व्यापारी और छोटे विक्रेता जिला प्रशासन द्वारा निर्धारित कीमत के अलावा जादा शुल्क नहीं लेंगे।

सूची के अनुसार, एक किलोग्राम चीनी को थोक में 37 रूपये और खुदरा में 39 रुपये पर बेचीं जानी चाहिए। रिफाइंड तेल की कीमत थोक में 93 रूपये लीटर और खुदरा में 96 रूपये लीटर है। इसी तरह, बासमती चावल की कीमत 60 रूपये प्रति किलो (थोक) और 65 रूपये प्रति किलो (खुदरा) तय की गई है।

शुक्ला ने कहा, हमने फलों और सब्जियों की कीमत तय नहीं की है क्योंकि वे दैनिक आधार पर उतार-चढ़ाव करते रहते हैं और थोक मूल्य साहिबाबाद सब्जी मंडी द्वारा निर्धारित किया जाता है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here