गोवा: सरकार ने संजीवनी मिल में एथेनॉल प्लांट स्थापित करने की मंजूरी दी

163

पणजी/पोंडा: राज्य सरकार ने गुरुवार को डेक्कन शुगर टेक्नोलॉजी एसोसिएशन (पुणे ) को संजीवनी सहकारी साखर कारखाना लिमिटेड (एसएसएसकेएल) में एथेनॉल उत्पादन प्लांट स्थापित करने के लिए विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार करने के लिए मंजूरी दे दी। पिछले हफ्ते, टाइम्स ऑफ़ इंडिया ने बताया था कि, राज्य की एकमात्र चीनी मिल, जो लगभग पांच दशक पुरानी है, घाटे में चल रही इकाई को एक लाभदायक इकाई में बदलने के लिए एथेनॉल उत्पादन का फैसला किया है। मिल के प्रशासक चिंतामणि बी पेर्नी ने डेक्कन शुगर टेक्नोलॉजिस्ट एसोसिएशन से डीपीआर तैयार करने का अनुरोध किया था।संजीवनी चीनी मिल की स्थापना 1971 में गन्ना किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार के लिए की गई थी। बार-बार होने वाली यांत्रिक समस्याओं, स्पेयर पार्ट्स की अनुपलब्धता और गन्ने की कमी के कारण मिल ने गन्ने की पेराई बंद कर दी। राज्य में 2019-20 और 2020-21 के दौरान काटे गए गन्ने को बेलगावी स्थित चीनी मिल में भेजा गया था।

सरकार ने गन्ना किसान सुविधा समिति का गठन किया है जिसमें पूर्व सांसद नरेंद्र सवाइकर की अध्यक्षता में 21 सदस्य शामिल हैं। इस समिति के स्थापना का उद्देश्य किसानों को विभिन्न कठिनाइयों के समाधान के लिए उचित उपायों की सिफारिश करना है। समिति में विधायक, गोवा के गन्ना किसान संघ के प्रतिनिधि और सरकारी अधिकारी शामिल हैं। मिल प्रशासक सदस्य सचिव है। समिति ने तत्काल कार्रवाई का सुझाव देते हुए अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की है। रिपोर्ट में गन्ना उत्पादन बढ़ाने के लिए किसानों को सेवाओं का विस्तार, उपयुक्त किस्मों को अपनाना, चीनी मिल परिसर में प्रदर्शन फार्म और बीज फार्म की स्थापना, मिल का आधुनिकीकरण, एथेनॉल उत्पादन प्रणाली का इस्तेमाल और गन्ना उत्पादक बेल्ट में गुड़ बनाने वाली इकाइयों को बढ़ावा देने के साथ-साथ अन्य सुझाव शामिल है। राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत की अध्यक्षता में छह सदस्यों वाली ‘एसएसएसकेएल’ के लिए एक राज्य स्तरीय समिति का गठन किया है। गन्ना किसान सुविधा समिति की रिपोर्ट राज्य स्तरीय समिति के समक्ष प्रस्तुत की गई।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here