मिलों को इंडोनेशिया में चीनी निर्यात करने का ‘सुनहरा मौका’

253

नई दिल्ली: भारत के चीनी मिलों के लिए निर्यात का सुनहरा मौका है। खबरों के मुताबिक, भारतीय चीनी मिलों से इंडोनेशिया कच्ची चीनी आयात कर सकता है। इंडोनेशिया द्वारा भारतीय कच्चे चीनी के आयात को सक्षम करने के लिए अपने गुणवत्ता मानदंडों में बदलाव करने की संभावना है।

फिलहाल इस सीजन में इंडोनेशिया को कम से कम 35 लाख टन कच्ची चीनी की आवश्यकता है, जो भारतीय चीनी मिलों के लिए नए अवसर पैदा कर सकती है।

इंडोनेशिया चीनी का आयात करता है जिसमें ICUMSA का स्तर 1,200 या उससे अधिक है। वे केवल कच्ची चीनी का आयात करते हैं, जिसमें आम तौर पर बहुत अधिक ICUMSA का स्तर होता है, और भारतीय कच्ची चीनी की बेहतरीन गुणवत्ता वाली चीनी भी इसके आयात मानदंडों को पूरा नहीं करती है। खबरों के मुताबिक, ICUMSA के स्तर को 500 से 600 तक किया जा सकता है। इसपर औपचारिक घोषणा जल्द होने की उम्मीद है।

इंडोनेशिया ज्यादातर थाईलैंड से चीनी आयात करता है जिसमें ICUMSA का स्तर उच्च होता है। हालाँकि, थाईलैंड में इस साल सूखा पड़ा है और वह अपनी घरेलू आवश्यकताओं को पूरा नहीं कर पाया है और ब्राजील का मौसम अभी शुरू नहीं हुआ है जिसके कारण भारत अब एक मात्र चीनी आपूर्ति करने वाला देश है।

नेशनल कोऑपरेटिव शुगर फैक्ट्रीज फेडरेशन (NFCSFF) के एमडी, प्रकाश नायकनवारे के अनुसार, पिछले साल भारत सरकार ने चीनी निर्यात को प्रोत्साहित करने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल भेजा था और इंडोनेशिया ने तब सकारात्मक प्रतिक्रिया दी थी।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here