चीनी मिलों के नकदी प्रवाह में सुधार करने के लिए सरकार कर रही है काम

288

नई दिल्ली: कोरोना संकट के कारण चीनी उद्योग काफी गंभीर संकट में फसा हुआ है और चीनी बिक्री ठप होने से मिलों में गोदामों में चीनी स्टॉक अधिक मात्रा में पड़ा हुआ है। अब सरकार भी योजना बना रही है की स्टॉक को कम किया जाए ताकि गन्ना किसानों का बकाया चुकाने में मदद मिलें।

इकनोमिक टाइम्स में प्रकाशित खबर के मुताबिक, खाद्य मंत्रालय ने मिलों के 30,000 करोड़ रुपये के चीनी स्टॉक को लिक्वीडेट करने के लिए चार महीने का प्लान बनाया है, ताकि इससे मिलों के नकदी प्रवाह में सुधार हो और किसानों के गन्ना बकाया का भुगतान करने में मदद मिल सके।

लॉकडाउन से चीनी की खपत प्रभावित हुई और अप्रैल और खपत में 10 लाख टन की गिरावट आई है। इसके चलते गन्ने का बकाया भी बढ़ गया है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here