ऊर्जा सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए सरकार कृषि में विविधता लाना चाहती है: नितिन गडकरी

122

नई दिल्ली: केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि, कृषि भारत की असली ताकत है, और सरकार का इरादा इसे ऊर्जा और बिजली क्षेत्र में विविधता लाने का है। गडकरी ने बायो-एनर्जी समिट 2021 (फार्म-2–फ्यूल : आत्मनिर्भर भारत के लिए सस्टेनेबल बायोएनेर्जी सॉल्यूशंस) को संबोधित करते हुए कहा, भारत की ईंधन ऊर्जा सुरक्षा को कृषि द्वारा अच्छी तरह से समर्थन दिया जा सकता है।

मंत्री गडकरी ने कहा कि, इन लक्ष्यों को पांच चरणों की रणनीति के माध्यम से हासिल किया जाएगा जिसमें जैव ईंधन और नवीकरणीय ऊर्जा को अपनाना, ऊर्जा दक्षता मानदंडों को लागू करना, रिफाइनरी प्रक्रियाओं में सुधार, घरेलू उत्पादन में वृद्धि और मांग प्रतिस्थापन को प्राप्त करना शामिल है। उन्होंने कहा कि, 20 प्रतिशत इथेनॉल-मिश्रण के लक्ष्य वर्ष को 2025 तक बढ़ाने की घोषणा की है। गडकरी ने कहा कि, ब्राजील और भारत दोनों स्थायी ऊर्जा रोडमैप पर आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने आगे कहा, भारत सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में से एक है जो टिकाऊ और जलवायु-तटस्थ विकास के माध्यम से अग्रणी है। उन्होंने कहा कि, भारत पेरिस जलवायु समझौते को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है, जहां 2030 तक कार्बन उत्सर्जन को 33 से 35 प्रतिशत तक कम करने के प्रयास केंद्रित हैं।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here