सोलापुर में उत्पादित हैंड सैनिटाइजर अन्य राज्यों में भेजने का प्रयत्न

300

सोलापुर : चीनी मंडी

कोरोनो वायरस महामारी को रोकने के लिए कोई दवा, कोई टिका नही है। बार-बार हातों की धुलाई, भीड़ में जाने से बचना और मास्क का उपयोग केवल बीमारी से बचने के निवारक उपाय है। कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते अचानक से हैंड सैनिटाइजर की मांग बढ़ गई, और पुरे देश में देखते देखते सैनिटाइजर का किल्लत निर्माण हुई है। इसकी कमी को पूरा करने के लिए देश में कई चीनी मिलें आगे आई है।

सोलापुर जिले की कई चीनी मिलों ने हैंड सैनिटाइजर का उत्पादन शुरू किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, देश में सैनिटाइजर की कमी को देखते हुए अब सोलापुर की चीनी मिलों द्वारा उत्पादित हैंड सैनिटाइजर को अन्य राज्यों में भेजने का प्रयत्न किया जा रहा है।

सोलापुर में विट्ठल कारपोरेशन, ब्रिमासागर महाराष्ट्र डिस्टलरी, श्री पांडुरंग, जकराया, विष्णु -लक्ष्मी, लोकमंगल, और अन्य मिलों ने हैंड सैनिटाइजर का उत्पादन शुरू किया है।

कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिएआम जनता, स्वास्थ्यकर्मियों, अस्पतालों आदि के द्वारा हैंड सैनिटाइजर्स का उपयोग किया जा रहा है। सैनिटाइज़र्स की मांग दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है तथा मांग और आपूर्ति में संतुलन बनाए रखने के लिएआबकारी आयुक्तों, गन्‍ना आयुक्‍तों,ड्रग कंट्रोलर्स के साथ-साथ विभिन्न राज्यों के जिला कलेक्टरों सहित राज्य सरकार के अधिकारियों को हैंड सैनिटाइज़र्स के निर्माताओं को इथेनॉल / ईएनए की आपूर्ति में सभी अड़चनों को दूर करने तथा हैंड सैनिटाइज़र्स बनाने के इच्‍छुक डिस्टिलरी (मद्यशाला) सहित आवेदकों को अनुमति/लाइसेंस देने की सलाह दी गई है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here