जिले में हुई रिकॉर्ड गन्ना पेराई

1857

रुड़की, हरिद्वार: उत्तरांचल के हरिद्वार जिले ने 2019 – 2020 सीजन में गन्ना पेराई का नया कीर्तिमान स्थापित किया है। इस बार गन्ना पेराई मामले में जिले ने पिछला रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर के मुताबिक, तीनों चीनी मिलों ने दो करोड़ 70 लाख कुंतल गन्ने की पेराई की है, जो कि पिछले साल की तुलना में 25 लाख कुंतल अधिक है। लॉकडाउन के बावजूद मिलों ने पूरी कार्यक्षमता से पेराई जारी रखी थी, जिसके परिणामस्वरूप अच्छा नतीजा देखने को मिला।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक हरिद्वार जिले में पिछले साल की तुलना में इस बार कम क्षेत्रफल पर गन्ने की फसल बोई गई थी, लेकिन फिर भी गन्ना उत्पादन में बढ़ोतरी हुई। जिले की लक्सर, इकबालपुर एवं लिब्बरहेड़ी चीनी मिल ने पेराई बंद कर दिया है। लक्सर चीनी मिल ने सबसे ज्यादा एक करोड़ 42 लाख गन्ने की पेराई की है, जबकि लिब्बरहेड़ी चीनी मिल ने 83 लाख कुंतल और इकबालपुर चीनी मिल ने 46 लाख कुंतल गन्ना पेराई की है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here