हरियाणा: किसानों ने दी 28 सितंबर को गन्ना आयुक्त कार्यालय के घेराव की चेतावनी…

252

अंबाला: नारायणगढ़ चीनी मिल के 2021-22 में गन्ना पेराई सीजन नहीं शुरू होने के आशंका के बीच चिंतित किसानों ने बैठकें आयोजित की हैं, और 28 सितंबर को पंचकूला में हरियाणा केन आयुक्त के कार्यालय का घेराव करने का फैसला किया है। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर के तहत भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू), हरियाणा (चारुनी), बीकेयू (टिकैत), और गन्ना किसान संघर्ष समिति (जीकेएसएस) के अंबाला जिले में साहा में हुई बैठक यह फैसला लिया गया। बीकेयू (चारुनी) से जुड़े लगभग 50 किसानों ने भी इस मिल के अधिकारियों के साथ कुरुक्षेत्र में शाहबाद सहकारी चीनी मिल्स लिमिटेड के अंदर एक बैठक आयोजित की और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नाम पर एक ज्ञापन सौंपा गया।

टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक, साहा बैठक में, किसानों ने कहा, नारायणगढ़ चीनी मिल पर 2020-21 सीजन का 70 करोड़ रुपये का भुगतान अब भी बकाया है। किसानों ने कहा, नारायणगढ़ चीनी मिल क्षेत्र के गन्ने को तीन चीनी मिलों (करनाल, शाहबाद और यमुनानगर) को दिया जाएगा। किसान लगभग 30,000 एकड़ गन्ना फसल और लंबित भुगतान के बारे में बहुत चिंतित हैं। बीकेयू (चारुनी) अंबाला जिला अध्यक्ष मलकायत सिंह साहिबपुरा ने कहा, साहा, अंबाला में एसकेएम बैठक में, यह निर्णय लिया गया है कि पंचकुला में हरियाणा गन्ना आयुक्त के कार्यालय का 28 सितंबर को घेराओ किया जाएगा।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here