हरियाणा: पराली जलाने के आरोप में किसानों के खिलाफ एफआईआर दर्ज

64

कैथल: हरियाणा में कैथल जिला प्रशासन ने पराली जलाने वाले किसानों के खिलाफ सोमवार को एफआईआर दर्ज की। जिला कलेक्ट्रेट प्रदीप दहिया के अनुसार, अधिकांश किसानों ने पराली जलाना बंद कर दिया है, लेकिन कुछ किसान अब भी पर्यावरण को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं। इस हालिया घटना के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जा रही है। दहिया ने सोमवार को खेत का दौरा किया। इस बीच, पंजाब के किसानों ने कहा है कि, वे मजबुरी में पराली जला रहे हैं और राज्य सरकार से खेतों में पराली जलाने से रोकने के लिए उन्हें 7000 रुपये प्रति एकड़ का मुआवजा देने की मांग की है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि किसानों के खिलाफ दुष्प्रचार किया जा रहा है।

सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) ने सूचित किया कि, राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न हिस्सों में हवा की गुणवत्ता ‘गंभीर’ बनी हुई है। SAFAR के विश्लेषण के अनुसार, नई दिल्ली में समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 432 दर्ज किया गया है। सरकारी एजेंसियों के अनुसार, 0-50 के बीच एक्यूआई को अच्छा माना जाता है, 51-100 को संतोषजनक, 101-200 को मध्यम, 201-300 को खराब, 301-400 को बहुत खराब और 401-500 को गंभीर/खतरनाक के रूप में चिह्नित किया जाता है।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here