हरियाणा: नवंबर में शुरू होगा गन्ना पेराई

369

चंडीगढ़: हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ बनवारी लाल ने कहा कि, नवंबर के पहले पखवाड़े से राज्य की सहकारी चीनी मिलों में गन्ना पेराई का काम शुरू हो जाएगा और मिलों ने सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं, ताकि किसानों को समस्याओं का सामना न करना पड़े। बुधवार को पंचकूला में HAFED कार्यालय में सहकारी चीनी मिलों के प्रबंध निदेशकों की बैठक की अध्यक्षता करते हुए, मंत्री लाल ने कहा कि, मिलों द्वारा किसानों को गन्ने की फसल के समय पर भुगतान के लिए आवश्यक कदम उठाए जाने चाहिए।

इसके अलावा, उन्होंने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने के निर्देश दिए कि गन्ना पेराई के समय कोई समस्या न हो और पूरे सीजन के दौरान काम सुचारू रूप से हो। उन्होंने कहा कि, अधिकारियों को सभी आवश्यकताओं को पूरा करना चाहिए ताकि सीजन के दौरान पेराई कार्य बाधित न हो। मंत्री ने सभी प्रबंध निदेशकों को निर्देश दिया कि, वे सहकारी चीनी मिलों में अनावश्यक व्यय को कम करें और चीनी मिलों को घाटे से उभारने के प्रयास भी करें। उन्होंने कहा कि चीनी मिलों में किसानों द्वारा लाई गई गन्ने की फसल को भी समय पर ट्राली से खाली किया जाना चाहिए और गन्ने का भुगतान सही समय पर किया जाना चाहिए। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि, जिन मिलों को किसानों को लंबित भुगतान करना है, वे इसे तत्काल प्रभाव से करें। राज्य में चीनी मिलों की आय बढ़ाने के लिए, मंत्री ने निर्देश दिया कि पानीपत और करनाल मिलों में चीनी की बिक्री पारदर्शी तरीके से की जाए।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here