हरियाणा: 2 चीनी मिलों को तकनीकी दक्षता पुरस्कार

181

चंडीगढ़: सहकारी चीनी मिल, करनाल को गन्ना प्रसंस्करण के क्षेत्र में उत्कृष्ट विकास के लिए प्रथम पुरस्कार के लिए चुना गया है। इसके अलावा, सहकारी चीनी मिल, कैथल को सत्र 2019-2020 के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अपनी तकनीकी दक्षता के लिए दूसरे पुरस्कार के लिए चुना गया है।

हरियाणा के सहकारिता मंत्री बनवारी लाल ने गुरुवार को कहा कि, इन मिलों को वडोदरा (गुजरात) में 27 और 28 मार्च को होने वाले राष्ट्रीय स्तर के पुरस्कार वितरण समारोह में सम्मानित किया जाएगा। इसका आयोजन नेशनल फेडरेशन ऑफ कोआपरेटिव शुगर मिल्स द्वारा किया जा रहा है। बनवारी लाल ने कहा कि, 2 मार्च तक, सभी सहकारी चीनी मिलों ने 920.80 करोड़ रुपये की लागत से 263.20 लाख क्विंटल गन्ना खरीदा था, जिसमें से 474.44 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है। इसके अलावा, सरकार द्वारा मिलों को पेराई सत्र 2020-21 के लिए गन्ने के शेष भुगतान के लिए 137.51 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता उपलब्ध कराई गई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here