राजकोट में भारी बारिश, 1,400 लोगों को निचले इलाकों से निकाला गया

21

राजकोट: पिछले 24 घंटों में, शहर में 13 इंच बारिश हुई और कल के लिए भी उच्च वर्षा की चेतावनी दी गई है। भारी बारिश के बाद आम जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया और शहर के निचले इलाकों से करीब 1,400 लोगों को आश्रय गृहों में भेजना पड़ा। राजकोट नगर निगम के आयुक्त अमित अरोड़ा ने एएनआई को बताया की, 300 से अधिक लोगों को बचाया गया क्योंकि कई क्षेत्रों में जलभराव हो गया था। अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। इससे पहले पद का कार्यभार संभालने के तुरंत बाद, मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने सौराष्ट्र और विशेष रूप से जामनगर और राजकोट जिलों के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के कारण बनी बाढ़ जैसी स्थिति की समीक्षा के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक की।

मुख्यमंत्री कार्यालय (सीएमओ) के अनुसार, नए मुख्यमंत्री पटेल ने जामनगर के कलेक्टर के साथ टेलीफोन पर बातचीत की और बचाव और राहत कार्यों के लिए स्पष्ट निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों से राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की मदद से पानी में फंसे लोगों को निकालने के लिए कहा।सीएमओ ने कहा, उन्होंने राजकोट के नगर आयुक्त और कलेक्टर से निचले इलाकों से लोगों को तुरंत सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने का आग्रह किया।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here