हिमाचल सरकार द्वारा एथेनॉल समेत अन्य 1,376 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को मंजूरी

144

राज्य सिंगल विंडो क्लीयरेंस एंड मॉनिटरिंग अथॉरिटी (एसएसडब्ल्यूसी एंड एमए) की मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आयोजित 20वीं बैठक में नए औद्योगिक उद्यमों की स्थापना और मौजूदा इकाइयों के विस्तार के लिए कुल 1,376.93 करोड़ रुपये (लगभग) के निवेश को मंजूरी दी गई। जिसमें चार एथेनॉल परियोजना को मंजूरी दे दी गई है। इन परियोजनाओं से लगभग 2,266 लोगों को रोजगार मिलेगा। जिन परियोजनाओं को मंजूरी मिली है उनमें एम जी पेट्रोकेम प्राइवेट लिमिटेड, हाइजेन लाइफ साइंसेज प्राइवेट लिमिटेड,आरएसए एनर्जी प्राइवेट लिमिटेड और भारत स्प्रिट्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा एथेनॉल प्लांट स्थापित कियें जायेंगें।

आपको बता दे, देश भर में एथेनॉल उत्पादन बढ़ाने को लेकर जोर दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 जून, 2021 को साल 2025 तक भारत में एथेनॉल सम्मिश्रण के लिए रोडमैप पर विशेषज्ञ समिति की रिपोर्ट जारी की थी। रिपोर्ट के मुताबिक, 20 फीसदी एथेनॉल ब्लेंडिंग पहुंच के भीतर है। 2025 तक 20 प्रतिशत एथेनॉल सम्मिश्रण से देश को अत्यधिक लाभ मिल सकता है, जैसे प्रति वर्ष 30,000 करोड़ रुपये की विदेशी मुद्रा की बचत, ऊर्जा सुरक्षा, कम कार्बन उत्सर्जन, बेहतर वायु गुणवत्ता, आत्मनिर्भरता, क्षतिग्रस्त खाद्यान्न का उपयोग के साथ साथ किसानों की आय, रोजगार और निवेश के अधिक अवसर निर्माण होंगें।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here