राकेश टिकैत ने गन्ना किसानों के लिए परिवहन सब्सिडी की मांग की

51

शिमला: किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने हिमाचल सरकार से मांग की कि, वह राज्य के पहाड़ी क्षेत्रों के गन्ना उत्पादकों की सहायता करें। जंगली जानवरों द्वारा उनकी फसल को होने वाले नुकसान की भरपाई के साथ साथ उन्हें अपने खेतों से बाजारों तक गन्ना पहुँचाने के लिए परिवहन सब्सिडी देने की जरूरत है। टिकैत, जो भारतीय किसान यूनियन (BKU) के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान नेता हैं, सर्वसम्मति किसान मोर्चा राज्य द्वारा आयोजित पहली किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे।

टिकैत ने सिरमौर जिले के पांवटासाहिब के पास हरिपुर टोहाना गाँव में महापंचायत को संबोधित करते हुए कहा कि, जिस तरह सरकार बंदरगाहों पर चीनी ले जाने के लिए चीनी मिलों को सब्सिडी देती है, उसी तरह हिमाचल में किसानों के लिए एक समान व्यवस्था की पेशकश करनी चाहिए। उन्होंने कहा, हिमाचल प्रदेश में कोई चीनी मिल नहीं है और गन्ना उत्पादकों को अपनी उपज उत्तराखंड चीनी मिल में पहुंचानी पड़ती है। किसान नेता गुरनाम सिंह चादुनी ने कहा कि, अगर “एक दुनिया, एक बाजार” प्रणाली लागू होती है, तो भारतीय किसानों को अमेरिकी किसानों के साथ प्रतिस्पर्धा करना मुश्किल होगा। उन्होंने कहा कि एक औसत अमेरिकी किसान हजारों वर्ग किलोमीटर भूमि का मालिक है और उसे सरकार द्वारा भारी सब्सिडी का भुगतान किया जाता है, जबकि 80 प्रतिशत से अधिक भारतीय किसानों के पास 2.5 एकड़ से कम भूमि है।

Previous articlePakistan farmers protest against non-payment of sugarcane dues during last three months
Next articleપાકિસ્તાન: વેરહાઉસમાં દરોડા દરમિયાન 500 ખાંડની બેગ મળી આવી

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here