ओडिशा के नयागढ़ चीनी मिल के खुलने की उम्मीद बढ़ी

281

नयागढ़: नयागढ़ जिले के पानीपोइला स्थित चीनी मिल को रखरखाव के काम के लिए गुरुवार को खोला गया और इसे जल्द शुरु करने के लिए एक असेसमेंट रिपोर्ट तैयार की गई कि इसे कितनी जल्दी कार्यान्वित किया जा सकता है। गौरतलब है कि यह मिल वर्ष 2015 से बंद पड़ी है।

इस नयागढ़ चीनी मिल को जिला कलेक्टर पोमा टुडू, उपजिलाधिकारी लगनजीत राउत और तहसीलदार भिखारी साहू की मौजूदगी में खोला गया। इसके बाद यहां आए अस्का चीनी मिल से दो सदस्यीय तकनीकी टीम ने मशीनों के कंडीशन और उनके वैल्यू का मूल्यांकन शुरु किया।

गौरतलब है कि नयागढ़ एक समय अपनी उच्च गुणवत्ता वाले गन्ने की पैदावार के लिए जाना जाता था। इसी बात को ध्यान में रखते हुए ओडिशा सरकार द्वारा पानपोइला में करोड़ो रुपये की लागत से नयागढ़ चीनी मिल का निर्माण किया गया और 1988 से उत्पादन शुरू हुआ। पानीपोइला संयोगवश नयागढ़ शहर से सिर्फ पांच किलोमीटर दूर एक बेहतरीन स्थान है। इस चीनी मिल के शेयरधारकों में सैकड़ों गन्ना किसानों को पंजीकृत किया गया था। इस मिल में 7,000 हेक्टेयर भूमि पर उपजे गन्ने खप जाती थी।

शुरु-शुरु में इस मिल में व्यस्थित उत्पादन हुआ लेकिन वर्ष 2003 में यहां उत्पादन गड़बड़ाया और वर्ष 2004 में इसे उद्यमी त्रिलोक्य मिश्रा को 5.22 करोड़ रुपये में बेच दिया गया। उन्होंने लगभग 10 वर्षों तक इस मिल को सफलतापूर्वक चलाया और फिर बाद में यहां विभिन्न यांत्रिक समस्याओं के उत्पन्न होने से उन्होंने मिल को 2015 में बंद कर दिया। अब इस मिल का असेसमेंट का काम शुरु है। इससे स्थानीय लोगों में रोजगार मिलने की उम्मीद बंधी है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here