अरब सागर से आ रही नम हवाओं से पश्चिमी मध्यप्रदेश के तापमान में गिरावट

868

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

भोपाल 09 मई (वार्ता) अरब सागर से आ रही नम हवाओं की वजह से आज पश्चिमी मध्यप्रदेश के कई स्थानों पर तापमान में हल्की गिरावट आयी है, लेकिन उत्तर प्रदेश से सटे पूर्वी मध्यप्रदेश के कुछ इलाकों में लू के हालात है।
स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक आर आर त्रिपाठी ने “यूनीवार्ता” को बताया कि अरब सागर से आ रही हवाओं की वजह से पश्चिमी मध्यप्रदेश में 25 किमी की रफ्तार से हवाएं चलने और नमी के फलस्वरुप कई स्थानों में पारा आधे से एक डिग्री नीचे लुढ़का है।

इसका असर राजधानी भोपाल सहित इंदौर, धार, खंडवा, खरगोन, राजगढ़, शाजापुर, उज्जैन और नरसिंहपुर में पड़ा है, जहां कल के मुकाबले तापमान में हल्की गिरावट दर्ज हुई है।

राजधानी भोपाल में भी आज दिन भर 25 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलती रही। तेज धूप होने के बावजूद नम हवाओं की वजह से तापमान में उछाल की बजाय गिरावट रही।

भोपाल में कल की तुलना में अधिकतम तापमान एक डिग्री की गिरावट के साथ 40़ 8 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ है जो सामान्य से मात्र 0़ 2 डिग्री ज्यादा है। न्यूनतम सामान्य से एक डिग्री अधिक 26़ 2 रहा। इंदौर में अधिकतम तापमान 39 डिग्री रिकार्ड किया गया जो सामान्य से 1़ 5 डिग्री कम है।

दूसरी ओर उत्तर प्रदेश की सीमा से सटे पूर्वी मध्यप्रदेश के कुछ इलाकों में गर्म हवाएं चलने से लू जैसे हालात हैं। उत्तर प्रदेश में गर्म हवाएं (हीट वेव) चल रही है।

43़ 8 डिग्री तापमान के साथ खजुराहो मध्यप्रदेश का सबसे गर्म शहर रहा। इसी के साथ नौगांव 43़ 6, रीवा 43़ 6, सीधी 43़ 6 और दमोह 43़ 4 गर्म हवाओं की चपेट में है। जबलपुर, मंडला, सतना, टीकमगढ़ और उमरिया में तापमान 42 डिग्री के पार रहा और वहां तपिश कायम है।

अगले चौबीस घंटों में प्रदेश का मौसम शुष्क रहने और तापमान में मामूली घट बढ़ का अनुमान है। भोपाल 22 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती है।

श्री त्रिपाठी के अनुसार अरब सागर से आ रही हवाओं का रुख इस ओर कायम रहा तो अगले 48 घंटों के दौरान मध्यप्रदेश में बादल छाने एवं कहीं कहीं गरज चमक की स्थिति बनने के साथ बूंदाबांदी भी हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here