अगर गन्ना किसानों का मोबाइल नम्बर गलत हुआ तो आगामी गन्ना पेराई सत्र में बढ़ सकती है उनकी परेशानी

192

बिजनौर: उत्तर प्रदेश के गन्ना विभाग ने किसानों को गन्ना पेराई, बकाया भुगतान, रिकवरी आदि जानकारी के लिए आधुनिक तकनीक के इस्तेमाल पर जोर दिया है। ऐसें में अगर किसानों का मोबाइल नम्बर गलत हो गया तो आगामी गन्ना पेराई सत्र में किसानों को परेशानी उठानी पड़ेगी। गलत नंबर के चलते किसानों को गन्ना बेचने के लिए समितियों द्वारा गन्ना पर्ची नहीं मिलेगी। इसलिए किसानों को मोबाइल नंबर देते समय पूरी सावधानी और तसल्ली करनी चाहिए। सर्वे प्रदर्शन के दौरान जिले के किसान अपना मोबाइल नम्बर अगर गलत है तो सही करा लें। मोबाइल पर मैसेज नहीं आएंगे तो परेशानी होगी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, मैसेज किसानों के मोबाइल पर आएंगे। विभाग से सम्बंधित जानकारी के मैसेज भी किसानों को मोबाइल पर मिलेंगे। गन्ना विभाग किसानों से अपील कर रहा है कि सर्वे प्रदर्शन के दौरान अपने मोबाइल नम्बर जांच ले। अगर मोबाइल नम्बर गलत है तो उसे सही कर लें।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here