चीनी मिल बंद न करने के आश्वाशन के बाद मंगलवार को प्रस्तावित हड़ताल रद्द कर दी गयी

1793

पोंडा, गोवा: गोवा सरकार द्वारा संजीवनी चीनी मिल बंद न करने के आश्वासन से संतुष्ट गन्ना किसानों ने अपनी मंगलवार को प्रस्तावित हड़ताल रद्द कर दी है। कई सारी अटकलों के बीच गोवा सरकार ने पिछलें मंगलवार को घोषणा की थी कि, संजीवनी चीनी मिल बंद नहीं होगी और मिल को सहकारिता विभाग से कृषि विभाग को स्थानांतरित किया गया। चीनी मिल के भविष्य को लेकर सरकार के नरम रुख से निराश होकर गन्ना उत्पादकों ने यदि सरकार 25 सितंबर तक निर्णय लेने में विफल रही, तो 29 सितंबर को मिल के सामने आंदोलन करने की चेतावनी दी थी। लेकिन मिल को लेकर राज्य सरकार ने अपना रुख स्पष्ट करने के बाद किसानों ने हड़ताल रद्द करने का फैसला किया है।

गोवा गन्ना उत्पादक संघ के उपाध्यक्ष हर्षद प्रभुदेसाई ने कहा कि, वे मुख्यमंत्री डॉ. प्रमोद सावंत के इस आश्वासन से संतुष्ट हैं कि, गन्ना किसानों को उनकी खड़ी फसल का मुआवजा तब तक दिया जाएगा जब तक कि मिल का संचालन शुरू नहीं होता है। हर साल, गणेश चतुर्थी के तुरंत बाद मिल रखरखाव का काम शुरू होता है। चूंकि इस साल मिल के इरखरखाव और मरम्मत का शुरू नहीं किया था, किसान उलझन में थे कि क्या मिल आगामी पेराई सत्र के दौरान शुरू होगी या नहीं।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here