वर्तमान पेराई सत्र 2020-21 में गन्ना पर्चियां केवल एस.एम.एस. पर्ची के रूप में गन्ना किसानों के ईआरपी में पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजी जायेंगी

33862

लखनऊ: प्रदेश के आयुक्त, श्री संजय आर. भूसरेड्डी ने बताया कि वर्तमान पेराई सत्र 2020-21 में कृषकों को गन्ना पर्चियां केवल S.M.S पर्ची के रूप में मोबाइल फोन पर प्रेषित की जायेंगी तथा क्रयकेन्द्रों पर प्रतिदिन होने वाली तौल की एक्नॉलेजमेन्ट शीट भी चस्पा की जायेगी, जिसके माध्यम से भी कृषक अपनी पर्ची के विषय में जान सकेंगे। इसलिए यह आवश्यक है कि ई.आर.पी. पर गन्ना कृषकों का सही मोबाइल नंबर पंजीकृत हो। इस हेतु उन्होंने गन्ना कृषकों से अपील की है कि वे E.R.P. पर पंजीकृत अपने मोबाइल नंबर को चैक कर लें, यदि गलत है तो अपने गन्ना पर्यवेक्षक के माध्यम से अथवा E-ganna एप्प के माध्यम से सवयं अपना सही मोबाइल नंबर अपडेट कर लें।

इस संबंध में विस्तृत जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि S.M.S इनबॉक्स भरा होने, मोबाइल स्विच ऑफ होने एवं डी.एन.डी. एक्टिवेट होने की स्थिति में S.M.S पर्ची का संदेश 24 घंटे के पश्चात स्वयं निरस्त हो जाता है, जिसके कारण किसानों को अपनी S.M.S पर्ची की जानकारी प्राप्त नहीं हो सकेगी। अतः सभी किसान भाई ससमय अपनी पर्ची प्राप्त करने हेतु अपना मोबाइल इनबॉक्स खाली रखें तथा मोबाइल को चार्ज करके चालू दशा में रखें तथा डी.एन.डी. को एक्टिवेट न करें ताकि सर्वर द्वारा प्रेषित पर्ची उनके मोबाइल पर उन्हें रियल टाइम में प्राप्त हो जाए। पर्ची निर्गमन की वर्तमान व्यवस्था पूर्णतयाः पारदर्शी है। किसान के मोबाइल नंबर पर S.M.S पर्ची भेजे जाने से किसान को तत्काल पर्ची प्राप्त होगी और समय से पर्ची मिल जाने के कारण ताजा गन्ना मिल को आपूर्ति होगा जिससे किसान गन्ने की सूख से होने वाली हानि से भी बचेंगे और कोविड-19 के प्रसार को भी प्रभावी ढंग से भी रोका जा सकेगा

श्री भूसरेड्डी ने बताया कि सभी परिक्षेत्रीय अधिकारियों एवं जिला गन्ना अधिकारियों को भी निर्देशित किया गया है कि वह इसका व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करते हुए एक अभियान चलाकर सभी गन्ना किसानों के सही मोबाइल नंबर अपडेट कराना सुनिश्चित करें ताकि कृषकों को गन्ना आपूर्ति में कोई असुविधा न हो।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

2 COMMENTS

  1. Yeh ek best alternative hai…lekin mill k ander sirf Token no…dekha jata hai…jo koi kisi ka bhi use kar sakta hai…E-ganna app par jakar…isko jyada secure hona chahiye…like registered mobile no par ek OTP bhi aana chahiye ganna parchi message k sath sath

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here