पाकिस्तान: चीनी मिल संघ द्वारा दिए गए गलत आंकड़ों के कारण देश में मूल्य वृद्धि हुई

238

कराची, पाकिस्तान: उद्योग और उत्पादन मंत्री हम्माद अजहर ने देश के चीनी संकट के लिए चीनी मिल संघ को दोषी ठहराया। उन्होंने आरोप लगाया की, उनका गलत डेटा ही चीनी की कीमतों में भारी वृद्धि का कारण बना। मंत्री अजहर ने कहा कि, सरकार की 11 मई की बैठक में एसोसिएशन द्वारा 300,000 टन अधिशेष की सूचना दी थी, और मुझे बताया गया था कि हमें इसे निर्यात करना पड़ सकता है। हालाँकि, चीनी कमीशन की रिपोर्ट जारी होने के एक महीने बाद इस स्थिति में 180 डिग्री का मोड़ आया। हमने पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा और पंजाब में छानबीन की और अभी भी सिंध सरकार के ऐसा करने की प्रतीक्षा कर रहे हैं।

अजहर ने कहा कि, सरकार ने पाया की पंजाब में मांग को दो-तीन गुना बढ़ गया है। जाहिर है, या तो वे हमें नकली रसीद दिखा रहे थे या चीनी जमाखोरी कर रहे थे। हमने चीनी सलाहकार बोर्ड की बैठक की जिसमें प्रांतों, संघ और अन्य संबंधित अधिकारियों ने भाग लिया। इस मुद्दे को हल करने में हमें लगभग 3-4 सप्ताह का समय लगा। उन्होंने कहा कि, सरकार ने डेटा उपलब्ध होते ही चीनी आयात करने का फैसला किया।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here