चीनी निर्यात, इथेनॉल उत्पादन में बढ़ोतरी से मिलों के ऑपरेटिंग मार्जिन को मिलेगा बढ़ावा : CRISIL

76

मुंबई: क्रिसिल रेटिंग्स के विश्लेषण के अनुसार, लगातार दूसरे चीनी सीजन में उच्च चीनी निर्यात, इथेनॉल की बढ़ी हुई आपूर्ति और लाभकारी कीमतों पर पेट्रोल के साथ सम्मिश्रण पर सरकार के फोकस से चीनी मिलों के ऑपरेटिंग मार्जिन में लगभग 75-100 अंक (बीपीएस) के आधार पर इस वित्त वर्ष में 13-14% की बढ़ोतरी की संभावना है। क्रिसिल का कहना है कि, इसके अलावा, सरकार द्वारा हाल ही में इथेनॉल-पेट्रोल सम्मिश्रण लक्ष्य को 2023 तक हासिल करने की घोषणा, मध्यम अवधि में इस गति को बनाए रखने में मदद कर सकती है।

इसके अतिरिक्त, चीनी अधिशेष स्टॉक पिछले चार सीजन की तुलना में निम्नतम स्तर 2020-21 में 9-9.5 मिलियन टन (मिलियन टन) तक गिरने की उम्मीद है, जिसके परिणामस्वरूप मिलों के लाभप्रदता और नियंत्रित ऋण स्तरों में सुधार होगा। क्रिसिल रेटिंग्स के वरिष्ठ निदेशक अनुज सेठी कहते हैं कि, एकीकृत चीनी मिलों की लाभप्रदता में सुधार को उच्च चीनी निर्यात, लाभकारी कीमतों में इथेनॉल बिक्री फायदेमंद साबित होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here