ब्राजील में चीनी उत्पादन में वृद्धि से वैश्विक बाजार के कीमतों में पड़ सकता है असर

231

साओ पाउलो : ब्राजील का इथेनॉल बाजार कमजोर रहने से उनके द्वारा चीनी उत्पादन में बढ़ोतरी हुई है। ब्राजील में चीनी उत्पादन में वृद्धि से वैश्विक बाजार में चीनी की बाढ़ आ सकती है, जिससे कीमतों में गिरावट होने की संभावना बनी हुई है। हाल के महीनों में, ईंधन की वैश्विक मांग में अनुमानित 28% की गिरावट आई थी, जिसके परिणामस्वरूप इथेनॉल उत्पादन में भी तेज गिरावट हुई है।

कोरोनो वायरस (COVID-19) महामारी के प्रकोप को रोकने के लिए वैश्विक स्तर पर लॉकडाउन जैसे उपाय किये गये, जिससे वैश्विक परिवहन बाधित हुआ और जिसका ईंधन क्षेत्र पर नकारात्मक प्रभाव देखा गया। इंधन बिक्री में रुकावटों के कारण रूस और पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (ओपेक) के बीच तेल कीमत युद्ध शुरू हो गया था। हालांकि, हाल ही में मांग में तेजी से सुधार से तेल की कीमतों में कुछ वृद्धि देखी गई है। इथेनॉल बाजार में हाल के हफ्तों में बिक्री में सुधार हुआ है।

ब्राजील में, चीनी उत्पादन में वृद्धि जारी रही और सरकारी फसलों की आपूर्ति करने वाली एजेंसी कॉनाब के अनुसार, देश में चीनी उत्पादन 35 मिलियन टन तक होने का अनुमान है, जो पिछले सीजन के 29.8 मिलियन टन से ऊपर है। ब्राजील के कॉम्क्सस्टेट ट्रेड पोर्टल के अनुसार, चालू सीजन में चीनी निर्यात भी पिछले साल की समान अवधि की तुलना में बढ़ा है। कुछ अंतर्राष्ट्रीय उद्योग विशेषज्ञ अब इस बात को लेकर चिंता जता रहे है कि, ब्राज़ील में चीनी का अत्यधिक उत्पादन होने से वैश्विक चीनी कीमतों पर असर पड़ सकता है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here