उत्तर प्रदेश में गन्ना बुवाई में बढ़ोतरी

96

लखनऊ : देश के सबसे बड़े गन्ना उत्पादक उत्तर प्रदेश में आने वाले सीजन में बंपर फसल होने की उम्मीद है। गन्ने की खेती का कुल क्षेत्रफल साल-दर-साल 3-4% बढ़ने का अनुमान है।

फाइनेंसियल एक्सप्रेस में प्रकाशित खबर के मुताबिक,2022-23 (अक्टूबर-सितंबर) सीजन के लिए गन्ने की बुवाई में लगातार तेजी आ रही है, गन्ने की ऊंची कीमतों से किसानों को धान और गेहूं के बजाय गन्ना उगाने के लिए प्रोत्साहन मिल रहा है। आंकड़ों के अनुसार, राज्य में 2022-23 में गन्ने की खेती के तहत 2.93 मिलियन हेक्टेयर भूमि होने का अनुमान है, जो 2021-2022 सीजन में 2.84 मिलियन हेक्टेयर थी। गन्ने का कुल रकबा 2020-21 में 2.76 मिलियन हेक्टेयर और 2019-20 में 2.74 मिलियन हेक्टेयर था।

गन्ना बोने के लिए किसानों की उत्सुकता का प्रमुख कारण अधिकांश चीनी मिलों ने समयबद्ध तरीके से किसानों का भुगतान करना है। गन्ना विभाग ने अपनी ओर से किसानों को अधिक उपज देने वाले ब्रीडर बीज की आसान उपलब्धता सुनिश्चित की है। गन्ना विभाग ने नर्सरी में गन्ने की नई किस्मों को उगाने में महिला स्वयं सहायता समूहों (SHG) को लगाया है। किसानों को आसान शर्तों पर उर्वरक, कीटनाशक और अन्य आवश्यक इनपुट मुहैया कराया जा रहा हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here