भारत और ब्रिटेन का 2030 तक व्यापार दोगुना करने का लक्ष्य

88

नई दिल्ली: ब्रिटिश उच्चायोग (BHC) ने घोषणा की कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन मंगलवार को व्यापार, स्वास्थ्य, जलवायु और रक्षा के क्षेत्र में यूके और भारत के बीच गहरे संबंधों पर सहमति के लिए एक ऑनलाइन बैठक करेंगे। ब्रिटिश उच्चायोग की एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि, इस योजना में भारतीय और ब्रिटिश व्यवसायों के लिए नए अवसरों को अनलॉक करने और यूके-भारत मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) पर बातचीत करने के लिए प्रतिबद्ध, एक संवर्धित व्यापार साझेदारी पर सहमति शामिल है।

यह साझेदारी 2030 तक यूके-भारत व्यापार के मूल्य को दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया है। भारत अब तक का सबसे बड़ा बाजार है जहां ब्रिटेन ने व्यापार समझौते पर बातचीत करने की प्रतिबद्धता जताई है। BHCने कहा कि, प्रधान मंत्री बोरिस जॉनसन यूके-भारत के नए व्यापार में 1 बिलियन पाउंड निवेश की घोषणा करेंगे, जिसमें स्वास्थ्य और प्रौद्योगिकी जैसे महत्वपूर्ण और तेजी से विकसित होने वाले क्षेत्र शामिल हैं।

बोरिस जॉनसन ने कहा, आने वाले दशक में, आज हस्ताक्षरित नई साझेदारी और एक व्यापक मुक्त व्यापार समझौते की मदद से, हम भारत के साथ अपनी व्यापारिक साझेदारी के मूल्य को दोगुना करेंगे और हमारे दोनों देशों के बीच संबंधों को नई ऊँचाइयों तक ले जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here