भारत ने कच्चे तेल पर अप्रत्याशित कर में कटौती की

58

नई दिल्ली : केंद्र सरकार ने बुधवार को कच्चे तेल पर अप्रत्याशित कर को घटाकर 17,000 रुपये प्रति टन कर दिया, जो पहले 23,250 रुपये प्रति टन था। यह कदम वैश्विक कच्चे तेल की कीमतों में ताजा गिरावट के बीच आया है। हाल के महीनों में कच्चे तेल की वैश्विक कीमतों में वृद्धि के कारण घरेलू कच्चे उत्पादकों द्वारा संचित लाभ को ध्यान में रखते हुए, केंद्र सरकार ने 1 जुलाई को कच्चे तेल पर 23,250 रुपये प्रति टन का उपकर लगाया था। अप्रत्याशित या अप्रत्याशित रूप से बड़े लाभ पर लगाया जाने वाला कर अप्रत्याशित कर कहलाता है।

नई दरें आज यानी बुधवार से प्रभावी होंगी। इसके अलावा, हाल ही में निर्यात पर डीजल पर लगाये गए 13 रुपये प्रति लीटर विशेष अतिरिक्त उत्पाद शुल्क को घटाकर अब 10 रुपये कर दिया गया है। पेट्रोल के लिए निर्यात कर हटा दिया गया है। 1 जुलाई को पेट्रोल पर 6 रुपये प्रति लीटर का एक्सपोर्ट टैक्स लगाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here