2019-20 सीजन के लिए चीनी उत्पादन में बड़े बदलाव की संभावना नहीं: ISMA

338

दुबई: इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (ISMA) के मुताबिक होने वाले अगले आंकड़ों की समीक्षा में 2019-20 सीजन के लिए भारतीय चीनी उत्पादन अनुमान 26 मिलियन टन से काफी ऊपर की ओर संशोधित होने की संभावना नहीं है। ISMA के अध्यक्ष विवेक पिट्टी ने दुबई में एक उद्योग सम्मेलन के दौरान बताया कि यह बैठक 25 फरवरी को होगी। चीनी उत्पादन आंकड़ों पर बोलते हुए उन्होंने कहा “यदि आप मुझसे पूछते हैं, तो मुझे इसमे महत्वपूर्ण संशोधन दिखाई नहीं देता।”

इस सीजन महाराष्ट्र और कर्नाटक में बाढ़ और सूखे के कारण चीनी उत्पादन में गिरावट का अनुमान है। परिणामस्वरूप, ISMA ने कहा है कि 2019-20 सीजन में देश का चीनी उत्पादन 26 मिलियन टन रह सकता है, जो तीन वर्षों में सबसे निचला स्तर है।

पिट्टी ने कहा, “अपने उत्पादन अनुमान के लिए, ISMA ने महाराष्ट्र से 6.2 मिलियन टन उत्पादन को ध्यान में रखा है। लेकिन इसमे थोड़ी वृद्धि 6.5 मिलियन टन तक हो सकती है।”

ISMA के मुताबिक 31 जनवरी 2020 तक की स्थिति के अनुसार देश में 446 चीनी मिलों ने 141.12 लाख टन चीनी का उत्पादन किया है, जबकि पिछले सत्र में इसी तारीख तक 520 मिलों ने 185.59 लाख टन चीनी का उत्पादन किया था।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here