कंटेनर निर्माण में भारत को आत्मनिर्भर होना चाहिए: केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल

88

नई दिल्ली : केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के लक्ष्य और मिशन को प्राप्त करने के लिए, भारत को उत्तम गुणवत्ता वाले कंटेनरों की कमी को पूरा करने के लिए कंटेनरों के निर्माण में आत्मनिर्भर होना चाहिए। उन्होंने विशेष रूप से अच्छी गुणवत्ता वाले कंटेनरों के निर्माण के लिए कोर्टेन 6 गुणवत्ता वाले स्टील के उत्पादन को बढ़ाने पर जोर दिया।

स्वदेशी कंटेनर विनिर्माण” पर एक वेबिनार के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए मंत्री गोयल ने जीपीएस के साथ स्वदेशी कंटेनरों के विनिर्माण के लिए बेहतर रसद के लिए सक्षम तकनीक का आह्वान किया जो भारतीय उद्योग की जीवन-रेखा है। गोयल ने कहा, भारत जैसा बड़ा देश जो उच्च विकास के पथ पर गति से चल रहा है, लेकिन फिलहाल निर्यात के लिए कंटेनरों की कमी का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा की, जैसा कि मेक इन इंडिया की परिकल्पना की गई है और आत्मनिर्भर भारत योजनाओं के तहत कंटेनरों के स्वदेशी निर्माण से रोजगार पैदा होंगे और तेजी से निर्यात में मदद करने के अलावा कीमती विदेशी मुद्रा की बचत होगी। इस समय, कंटेनर कॉपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (CONCOR) के पास 37000 आईएसओ कंटेनरों का एक बेड़ा है। इससे पहले भारत चीन द्वारा निर्मित कंटेनरों के आयात पर निर्भर था।

Previous articleKarnataka farmers demand higher FRP for sugarcane
Next articleઇથેનોલ ઉત્પાદન ક્રૂડ આયાત પરની પરાધીનતા ઘટાડશે અને રોજગારની તકોમાં વધારો કરશે

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here