चाइनीज ऐप्स के लिए जानिये कौनसे भारतीय ऐप्स है सर्वश्रेष्ठ विकल्प

538

लद्दाख में तनावपूर्ण हालात के बीच, चाइनीज मोबाइल ऐप्‍स पर बैन लगाकर भारत ने चीन को बड़ा झटका दिया है। चाइनीज ऐप्स पर बैन लगाने से भारतीयों का कुछ भी नुकसान नही होगा, क्योंकि इन ऐप्‍स से मिलते-जुलते फीचर्स वाले ‘मेड इन इंडिया’ ऐप की देश में कमी नहीं है। मगर चीन के लिए भारत का ऐप मार्केट न सिर्फ बहुत बड़ा था, बल्कि वह बढ़ भी रहा था। चीन के कारोबारी हितों को नुकसान पहुंचाने वाला यह एक बड़ा फैसला है। इन ऐप्‍स को अब भारत में डाउनलोड और इस्‍तेमाल नहीं किया जा सकेगा। जिस तरह से भारत में चीन के खिलाफ माहौल है, यह बैन कई और सेक्‍टर्स में भी बढ़ाया जा सकता है। यह फैसला चीन के कारोबारियों और चीन के लिए भारत की ओर से एक अहम संदेश है।

वर्ष 2020 की शुरुआत एक कठिन शुरुआत के तौर पर हुई है और हमने बहुत ही निराशाजनक घटनाएं देखी हैं। हालांकि, चाइनीज ऐप्स से गोपनीयता की चिंता बहुत लंबे समय से है। विशेषज्ञों ने दावा किया है कि, कुछ चाइनीज ऐप ने दुरुपयोग किया है। हाल के समय में, बहुत सारे उपभोक्ता / उपयोगकर्ताओं Google Play Store और Apple App Store में चाइनीज ऐप्स के प्रभुत्व के बारे में अधिक चिंतित हो गए हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हाल के दिनों में हमने देखा कि Mi Browser ने गुप्त मोड में भी खोजे सवाल एकत्र की और उन्हें चीन भेज रहा है, इसी तरह, हमने TikTok पर चीन में सर्वर पर ड्राफ्ट वीडियो भेजने का आरोप लगते हुए देखा है। उपभोक्ताओं / उपयोगकर्ताओं का डेटा चीनी सर्वरों को भेजा जा रहा है जो उपयोगकर्ताओं / उपभोक्ताओं की गोपनीयता की उपेक्षा करता है। चीन में भेजे जाने वाला कोई भी डेटा चीनी अधिकारियों द्वारा उपयोग करने के लिए खुला है और इसने अधिकांश उपभोक्ताओं के बीच चिंता पैदा कर दी है। आमतौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले चीनी ऐप के लिए विकल्प ढूंढना चाहते हैं तो यहां कुछ शुरुआत की जा सकती है।

टिकटॉक को बाय बाय और शेयरचैट को करो हाय…

टिकटॉक के अतीत में कई गोपनीयता मुद्दे रहे हैं और यह कई उपयोगकर्ताओं के लिए एक प्रमुख चिंता का विषय रहा है। हाल ही में, अमेरिकी सीनेटरों ने भी टिकटॉक के गलत कामों की जांच करने के लिए FTC से आग्रह किया था क्योंकि वे 13 साल से कम उम्र के बच्चों के वीडियो को हटाने में विफल रहे थे। इसके अलावा, कई गोपनीयता के उल्लंघन की घटनाओं के कारण कई उपयोगकर्ता ऐसे ऐप्स के बारे में चिंता में है। TikTok, बीजिंग स्थित कंपनी, बाइटडांस के स्वामित्व में है, और कंपनी पर पिछले कई दिनों से चीन के साथ उपयोगकर्ताओं का डेटा साझा करने का आरोप लगाया गया है।

यदि आप भारत में बने विकल्प की तलाश कर रहे हैं, तो ShareChat ऐप TikTok के समान है, यह एक सामाजिक वीडियो प्लेटफ़ॉर्म है और कंपनी स्वदेसी है। TikTok के समान, ShareChat आपको अपने वीडियो बनाने और उन्हें साझा करने की अनुमति देता है। एप्लिकेशन आपको लिप-सिंक करने, चुनौतियां लेने और अन्य संगीत वीडियो बनाने की अनुमति देता है। ShareChat ऐप उपयोगकर्ताओं को प्लेटफ़ॉर्म पर अन्य उपयोगकर्ताओं के साथ संवाद करने और बातचीत करने की भी अनुमति देता है और 10 से अधिक विभिन्न भाषाओं में उपलब्ध है। अबतक ऐप 100 मिलियन से अधिक लोगों ने डाउनलोड किया है और शायद यह टिकटॉक का सबसे अच्छा भारतीय विकल्प है।

यूसी ब्राउज़र/ UC Browser की जगह ले सकता है Epic वेब ब्राउज़र….

कई स्मार्टफोन्स पर प्री-इंस्टॉल्ड ऐप प्रसिद्ध यूसी ब्राउजर का स्वामित्व चीन के अलीबाबा ग्रुप के पास है; और यह भारत भर में सबसे लोकप्रिय वेब ब्राउज़रों में से एक है। ऐप पर अतीत में कई सुरक्षा और गोपनीयता के मुद्दों का आरोप लगाया गया है और सिटीजन लैब ने एक विस्तृत अध्ययन भी प्रकाशित किया है जिसमें ऐप के भीतर विशाल सुरक्षा भेद्यता और गोपनीयता अंतराल दिखाई दिए। रिपोर्ट ने निष्कर्ष निकाला कि किसी भी एन्क्रिप्शन के बिना अपने उपयोगकर्ताओं की व्यक्तिगत रूप से पहचान योग्य जानकारी अलीबाबा एनालिटिक्स टूल को भेजी जा रही थी। भारत सरकार ने भी 2017 में कुछ डेटा चोरी के यूसी ब्राउज़र पर आरोप लगाया। भारतीय डेवलपर्स द्वारा यूसी वेब ब्राउज़र के दो सबसे अच्छे विकल्प एपिक/ Epic वेब ब्राउज़र और JioBrowser हैं। एपिक वेब ब्राउज़र चीन के लोकप्रिय यूसी ब्राउज़र का एक बेहतरीन भारतीय विकल्प है और इसे बैंगलोर की एक कंपनी द्वारा विकसित किया गया है। वेब ब्राउजर यूजर्स के लिए इन-बिल्ट वायरस प्रोटेक्शन के साथ आता है, जो इसे अन्य ब्राउजर की तुलना में लोकप्रिय बना देता है। JioBrowser अभी तक एक और लोकप्रिय भारतीय ब्राउज़र है जो यूसी ब्राउज़र के समान एक तेज़ और सुरक्षित सर्फिंग अनुभव प्रदान करता है। Jio Browser उपयोगकर्ताओं को समाचार और मनोरंजन सामग्री प्रदान करता है।

SHAREit का विकल्प होगा ShareAll….

SHAREit एक फाइल ट्रांसफर एप्लिकेशन है लेकिन अब धीरे-धीरे कंटेंट प्रोवाइडर प्लेटफॉर्म पर जा रहा है। ऐप भी अपने प्राथमिक लक्ष्य से आगे बढ़ गया है।SHAREit एप्लिकेशन में भी गोपनीयता पर कई चिंताएं हैं। SHAREit पिछले वर्ष में दो सुरक्षा कमजोरियों के कारण सुर्खियों में रहा है, जो हैकर्स को उपयोगकर्ता की सामग्री डाउनलोड करने की अनुमति देता है। यदि आप SHAREit विकल्प की तलाश कर रहे हैं, तो ShareALL एक अच्छा विकल्प हो सकता है। ShareALL ऐप भारत आधारित डेवलपर द्वारा विकसित किया गया है और इंटरनेट एक्सेस या केबल के बिना सभी प्रकार की फ़ाइलों को स्थानांतरित करने की अनुमति देता है। ShareALL एप्लिकेशन पूरी तरह से स्वतंत्र है और आसानी से उच्च गति फ़ाइल साझा करता है।

VivaVideo नही अब इस्तेमाल करें Photo Video Maker with Music…

स्मार्टफोन पर आसानी से वीडियो एडिट करने के लिए VivaVideo सबसे लोकप्रिय ऐप है। हाल के एक लेख में, ऐप को चीनी स्पाईवेयर कहा गया है और ऐप कई तरह की अनुमति भी मांगता है, जिसके लिए एक वीडियो एडिटिंग सॉफ़्टवेयर की आवश्यकता नहीं होती है। भारतीय उपयोगकर्ताओं पर जासूसी के लिए भारत सरकार ने 2017 में ऐप को ब्लॉक कर दिया था। इसके लिए सबसे अच्छा विकल्प Photo Video Maker with Music होगा, यह ऐप ट्रिम, कट, ब्लर बैकग्राउंड, म्यूजिक जोड़ने और अन्य सभी सुविधाओं के साथ अच्छे एचडी वीडियो एडिटर में से एक है। यह पेशेवर वीडियो संपादन टूल के साथ भी आता है और आपको आसानी से अपने स्मार्टफोन के आराम से अछे वीडियो बनाने की अनुमति देता है।

Zoom की जगह Jio Meet, Say Namaste…

फिलहाल Zoom पर बैन नहीं लगाया गया है। Zoom का मुख्यालय कैलिफ़ोर्निया में है, Zoom का उत्पाद विकास मुख्य रूप से चीन में होता है। चीन सख्त डेटा गोपनीयता कानून और जोखिम को लागू नहीं करता है जिससे कंपनी को चीन सरकार से दबाव और प्रभाव के लिए उजागर किया जा सके। हाल ही में Zoom को चीन के सर्वर के माध्यम से गैर-चीनी कॉल को रूट करते हुए भी देखा गया, जिससे और अधिक संदेह पैदा हो गया। यदि आप Zoom के लिए स्थानीय देसी विकल्प की तलाश कर रहे हैं तो हमारे पास Reliance Jio से Jio Meet और निजी फर्म से Say Namaste है। Google Meet और सिस्को वीबेक्स सहित कई अन्य अंतरराष्ट्रीय विकल्प हैं, लेकिन Jio Meet, Say Namaste वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप का निकटतम भारतीय विकल्प है।

आपको बता दे, बैन किये गए चाइनीज ऐप्स की लिस्ट में, TikTok, Shareit, Kwai, UC Browser, Baidu map, Shein, Clash of Kings, DU battery saver, Helo, Likee, YouCam Makeup, Mi Community, CM Browsers, Virus Cleaner, APUS Browser, ROMWE, ClubFactory, Newsdog, Beauty Plus, WeChat, UC News, QQ Mail, Wibo, Xender, QQ Music, QQ Newsfeed, BigoLive, Selfie City, Mail Master, Parallel Space, Mi Vide, WeSync, ES File Explorer, Viva Video, Meitu, Vigo Video, New Video Status, DU Recorder, Vault Hide, Cache Cleaner, DU Cleaner, DU Browser, Hago Play, Cam Scanner, Clean Master, Wonder Camera, Photo Wounder, QQ Player, We Meet, Sweet Selfie, Baidu Translate, Vmate, QQ International, QQ Security Center, U Video, V Fly Status, Video, Mobile Legends और DU privacy ऐप्स शामिल हैं।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here