कोरोना के चुनौतियों बावजूद बढ़ी रेलवे की बढ़ी माल ढुलाई

116

नई दिल्ली: न्यूज एजेंसी ANI के मुताबिक, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुनीत शर्मा ने कहा कि, भारतीय रेलवे ने कोविड -19 चुनौतियों के बावजूद पिछले साल के कुल संचयी माल ढुलाई का अपना ही रिकार्ड तोड दिया है। कोरोना महामारी के चुनौतियों के बावजूद, 11 मार्च 2021 को, भारतीय रेलवे ने पिछले साल कुल संचयी माल ढुलाई आंकडे को पार कर लिया। 11 मार्च 2021 को, भारतीय रेलवे के संचयी माल ढुलाई ने 1145.68 मिलियन टन को छू लिया, जो पिछले वर्ष के 1145.61 मिलियन टन के कुल संचयी लोडिंग से अधिक है। भारतीय रेलवे द्वारा माल ढुलाई के लिए बहुत आकर्षक रियायतें / छूट दी जा रही हैं। जिसका असर अब आंकडो के जरिए दिखाई दे रहा है।

शर्मा ने कहा कि, माल ढुलाई के आंकड़े मार्च 2021 में लोडिंग और गति के मामले में उच्च गति को बनाए रखने में कामयाब हुए हैं। उन्होंने कहा, 11 मार्च, 2021 को दिन के आधार पर, भारतीय रेलवे का लोडिंग 4.07 मिलियन टन था, जो पिछले साल की समान तारीख (3.03 मिलियन टन) की तुलना में 34 प्रतिशत अधिक है। उन्होंने बताया कि, मार्च 2021 में 11 मार्च तक मालगाड़ियों की औसत गति 45.49 किमी प्रति घंटे थी, जो पिछले वर्ष की इसी अवधि (23.29 किमी प्रति घंटे) की तुलना में लगभग दोगुनी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here