इंडोनेशिया की चीनी आयात में कटौती के साथ उत्पादन में आत्मनिर्भर बनने की योजना

227

जकार्ता: इंडोनेशिया घरेलू चीनी उत्पादन को बढ़ाकर, आयात में कटौती करने का प्रयास कर रहा है। राज्य प्लांटेशन होल्डिंग कंपनी पीटी पर्किबुनन नुसंतरा III के निदेशक मोहम्मद अब्दुल गनी ने कहा कि, 2025 तक 2 मिलियन टन चीनी उत्पादन करने का लक्ष्य रखा है। जिसके लिए गन्ना क्षेत्र में विस्तार करने और मिलों को पुनर्निर्मित करने के लिए योजना बनाई है। आयात में कटौती चीनी खपत पर निर्भर करता है। कृषि मंत्रालय को उम्मीद है कि, 2023 तक एक साल में प्रति व्यक्ति 25 किलोग्राम से अधिक चीनी की मांग होगी, लेकिन स्थानीय चीनी संघ का कहना है कि, आयात में कमी करने के लिए इसे 20 किलोग्राम से नीचे आने की आवश्यकता है।

आपको बता दे, कोरोनो वायरस मामलों में उछाल के बाद इंडोनेशिया की चीनी की मांग में मार्च और जून के बीच 25 प्रतिशत तक की गिरावट देखि गई थी। इंडोनेशिया शुगर एसोसिएशन के अनुसार मार्च और जून के बीच गिरावट के बाद, इस महीने चीनी की मांग लगभग 225,000 टन तक पहुँच गई है। एक सामान्य वर्ष में, देश में प्रति माह लगभग 250,000 से 260,000 टन की खपत होती है। लॉकडाउन के चलते चीनी के मुख्य उपयोगकर्ता होटल, रेस्टोरेंट और अन्य जगह पर लोगो ने जाना बंद कर दिया, जिसके कारण चीनी की मांग कम रही।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here