अप्रैल में औद्योगिक उत्पादन वृद्धि दर 3.4 प्रतिशत पर

684

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये

नयी दिल्ली 12 जून (UNI) देश के उद्योगों की रफ्तार मापने वाला औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) मौजूदा वर्ष के अप्रैल में 3.4 प्रतिशत बढ़ा है जबकि इससे पिछले महीने यह आँकड़ा 0.1 प्रतिशत ऋणात्मक था।

सरकार ने बुधवार को यहाँ जारी आँकड़ों में बताया कि बीते वित्त वर्ष में आईआईपी की वृद्धि दर 3.6 प्रतिशत रही थी।

आँकड़ों के अनुसार, अप्रैल 2019 में खनन उत्पादन की वृद्धि दर 5.1 प्रतिशत, विनिर्माण की उत्पादन की वृद्धि दर 2.8 प्रतिशत और बिजली की उत्पादन दर छह प्रतिशत रही है। अप्रैल 2018 से मार्च 2019 की अवधि में खनन उत्पादन की वृद्धि दर 2.9 प्रतिशत, विनिर्माण उत्पादन की 3.6 प्रतिशत और बिजली की 5.2 प्रतिशत दर्ज की गयी है।

आईआईपी में शामिल 23 उद्योग समूहों में से 14 में सकारात्मक वृद्धि हुई है।

आलोच्य माह में परिधान विनिर्माण समूह में सर्वाधिक 33.6 प्रतिशत की तेजी आयी है जबकि दूसरे स्थान पर 22.6 प्रतिशत के साथ काष्ठ एवं काष्ठ उत्पाद रहे हैं। प्रिटिंग एवं रिकॉर्डेड मीडिया का पुन: उत्पादन समूह 16.3 प्रतिशत के साथ तीसरे स्थान पर है। दूसरी ओर, कागज एवं कागज उत्पाद में सर्वाधिक 12.3 प्रतिशत गिरावट दर्ज की गयी है। कृत्रिम धातु उत्पाद समूह में 9.6 प्रतिशत तथा अन्य परिवहन उपकरण समूह में 3.5 प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here