ISMA ने जारी किया संशोधित चीनी उत्पादन अनुमान 26.5 मिलियन टन

234

नई दिल्ली: इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन (ISMA) ने इस साल के अपने चीनी उत्पादन पूर्वानुमानों को संशोधित करते हुए कहा है कि देश में इस बार 26.5 मिलियन टन चीनी उत्पादन होने की उम्मीद है। इस्मा ने नवंबर में 26 मिलियन टन चीनी उत्पादन होने की उम्मीद जताई थी।

पिछले सीजन के मुकाबले उत्पादन में कमी का मुख्य कारण उत्पादक राज्यों में गन्ना उत्पादन में कमी है।

देश के प्रमुख चीनी उत्पादक राज्यों की बात करें तो उत्तर प्रदेश की मिलों में मौजूदा चीनी सीजन (2019-20) के दौरान 118 लाख टन चीनी उत्पादन की उम्मीद है, जो लगभग पिछले साल के बराबर ही है। महाराष्ट्र में गत वर्ष (107.20 लाख टन) के मुकाबले करीब 62 लाख टन चीनी उत्पादन की उम्मीद है। तीसरे प्रमुख चीनी उत्पादक राज्य कर्नाटक में पिछले साल (44.30 लाख टन) के मुकाबले इस साल करीब 33 लाख टन चीनी उत्पादन होने की उम्मीद है। ISMA के मुताबिक देश के अन्य गन्ना उत्पादक राज्यों में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है। तमिलनाडु, गुजरात, आंध्र प्रदेश और तेलंगाना, बिहार, पंजाब, हरियाणा, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़, ओडिशा और उत्तराखंड में सामूहिक रूप से लगभग 52 लाख टन चीनी उत्पादन होने की उम्मीद है, जो इस्मा के पहले पूर्वानुमानों के करीब ही है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here