लॉकडाउन: जवाहर चीनी मिल ने गन्ना कटाई मजदूरों की जिम्मेदारी उठाई

145

कोल्हापुर : चीनी मंडी

लॉकडाउन के कारण महाराष्ट्र और कर्नाटक के सीमावर्ती इलाकों के मिलों में हजारों गन्ना श्रमिक फंसे हुए है। बीड, अहमदनगर और अन्य जिलों से आये यह सारे श्रमिक अपने गावों को भेजने की गुजारिश मिल प्रबंधन से कर रहे है, लेकिन लॉकडाउन के चलते कोई भी नही जा पा रहा है। विधायक प्रकाश आवाडे ने सामाजिक न्याय और विशेष सहायता मंत्री धनंजय मुंढे से सम्पर्क किया और इस समस्या का रास्ता खोजने की मांग की। मंत्री मुंढे ने जल्द से जल्द समस्या को हल करने का आश्वाशन दिया।

हातकंणगले तालुका के हुपरी गांव में स्थित जवाहरलाल शेतकरी चीनी मिल में राज्य के विभिन्न हिस्सों से लगभग कई गन्ना कटाई के लिए आये है। मिल के चेयरमैन कल्लाप्पान्ना आवाड़े के नेतृत्व में सभी श्रमिक और उनके जानवरों का पूरी तरह से खयाल रखा जा रहा है। श्रमिकों को आवश्यक सामग्री दी जा रही है। सरकार के आदेश के अनुसार, मिल द्वारा सभी श्रमिकों के लिए दो समय के भोजन की व्यवस्था की गई है। 2700 जानवरों की भी देखभाल की जा रही है।विधायक आवाड़े ने मिल का दौरा किया और मजदूरों से बातचीत की। इस समय मजदूरों ने आवाड़े से अपने अपने गांव को भेजने का अनुरोध किया। इस समय केन कमिटी चेअरमैन राहुल आवाड़े, कार्यकारी निदेशक मनोहर जोशी, कृषि अधिकारी किरण काम्बले आदि उपस्थित थे।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here