कर्नाटक: किसानों ने सरकार से अगले पेराई सत्र में गन्ने की FRP बढ़ाने की मांग की

82

मैसूर: गन्ना किसानों ने सरकार से 3,200 रुपये एफआरपी तय करने की मांग की। उनका कहना है की सरकार आने वाले नए पेराई सत्र में गन्ना के मूल्य में बढ़ोतरी करे।

सिटी कांग्रेस यूनिट के सदस्यों ने बढ़ते ईंधन की कीमतों को लेकर भी प्रदर्शन किया। चामराजा विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पूर्व विधायक वासु के नेतृत्व में यादवगिरि में आकाशवाणी सर्कल के पास केआरएस रोड पर एक पेट्रोल बंक के सामने धरना दिया। इस अवसर पर पूर्व मेयर प्रकाश व अन्य कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद थे। भारतीय राष्ट्रीय छात्र संघ (NSUI) के सदस्यों ने दसप्पा सर्कल (रेलवे स्टेशन के पास) पर एक पेट्रोल पंप के पास विरोध प्रदर्शन किया और ईंधन और अन्य आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में वृद्धि की निंदा की।

चामुंडेश्वरी कांग्रेस यूनिट के सदस्यों ने शहर के निवेदितानगर में विरोध प्रदर्शन किया। चामुंडेश्वरी प्रखंड समिति के अध्यक्ष नागनहल्ली उमाशंकर सहित अन्य मौजूद रहे। दूसरी तरफ, कर्नाटक राज्य गन्ना उत्पादक संघ के प्रदेश अध्यक्ष कुरुबुरु शांताकुमार की अध्यक्षता में कार्यकर्ताओं ने उपायुक्त (डीसी) कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया। उन्होंने सरकार से गन्ना उचित और लाभकारी मूल्य (एफआरपी) रुपये तय करने की भी मांग की। वर्ष 2021-22 के लिए 3,200 प्रति टन और राष्ट्रीयकृत बैंकों के माध्यम से एक विशेष ऋण योजना की घोषणा करके संकटग्रस्त किसानों का सहयोग करने की मांग की।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here