केन्या: गन्ना किसानों कि सस्ते चीनी आयात पर रोक लगाने की मांग

176

नैरोबी: केन्या नेशनल फेडरेशन ऑफ शुगरकेन फार्मर्स चाहता है कि, कृषि कैबिनेट सचिव पीटर मुन्या उच्च चीनी आयात और कम कीमतों के मुद्दे पर हस्तक्षेप करें। केन्या नेशनल फेडरेशन ऑफ शुगरकेन फार्मर्स के मुख्य कार्यकारी फ्रांसिस वासवा ने कहा कि, सरकार को चीनी उद्योग को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर ध्यान देना चाहिए, क्योंकि इस समस्या से अधिकांश किसान पीड़ित हैं। उन्होंने दावा किया कि, सस्ते आयात ने स्थानिय चीनी उद्योग और किसानों को काफी नुकसान उठाना पड रहा है।

वासवा ने बंगोमा शहर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि, जिस तरह से कैबिनेट सचिव पीटर मुन्या, चाय और कॉफी उद्योग को सुव्यवस्थित करने के लिए आगे बढ़े हैं, उसी तरह उन्हें शुगर इंडस्ट्री के लिए भी अहम कदम उठाने चाहिए। चीनी बिल वर्तमान में संसद में अटका हुआ है, मुन्या को अब गन्ना किसानों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। मुन्या ने देश में सस्ती चीनी की डंपिंग की अनुमति देने के आरोपों के खिलाफ सरकार का बचाव किया, वहीं उत्पादकों ने चिंता जताई है कि, आयात खुदरा कीमतों को कम करके इस क्षेत्र को नुकसान पंहुचा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here