लॉकडाउन: केसर चीनी मिल ने किया सराहनीय काम; मजदूरों को अपने खर्चे पर भेजा घर

550

लखनऊ : कोरोना वायरस का प्रकोप रोकने के लिए केंद्र सरकार ने देशव्यापी लॉकडाउन जारी किया है। इसके कारण देशभर में आवाजाही पर भी काफी सारे प्रतिबंध लगे है। उत्तर प्रदेश समेत महाराष्ट्र, कर्नाटक, गुजरात इन राज्यों में गन्‍ना कटाई के लिए दूसरे जिले और राज्यों से आए मजदूर लॉकडाउन के कारण मिलों मे ही फंसे थे। कई राज्यों में चीनी सीजन खत्म होने के बावजूद मजदूरों को मिलों में रूकने के लिए मजबूर होना पडा था। महाराष्ट्र, गुजरात में तो कई जगहों पर मजदूरों गांव वापस लौटने के लिए रास्ते पर भी उतर गए थे। लाइव हिंदुस्तान के मुताबिक, उत्तर प्रदेश की केसर चीनी मिल प्रबंधन ने, मिल बंद होने के बाद लॉकडाउन के चलते अपने खर्चे पर मिल में काम करने वाले 130 मजदूरों को उनके घर भेज दिया।

रास्ते में मजदूरों को किसी तरह की कोई दिक्कत न हो इसके लिए उन्हें खाने के पैकेट और पानी की बोतले भी उपलब्ध कराई गईं। पिछले हफ्ते केसर चीनी मिल का पेराई सत्र समाप्त हो गया था। लॉकडाउन के चलते हो रही दिक्कत के मद्देनज़र केसर मिल प्रबंधन ने मिल में काम करने वाले बाहर के सीजनल मजदूरों को अपने खर्चे पर पांच बसों से गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, गोपालगंज, छपरा और सिवान भिजवा दिया। केसर चीनी मिल द्वारा किया गया यह सराहनीय है।

यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here