कोल्हापुर: बायसन दिखे जाने के कारण गन्ने की कटाई पर पडा असर

78

कोल्हापुर: गन्ना पेराई का मौसम अपने चरम पर है, लेकिन कोल्हापुर शहर के आसपास के खेतों में बायसन देखे जाने के बाद कटाई की गतिविधि पर असर पडा है। वडणगे, शिये, पेठ वडगांव और चिखली गांव के साथ-साथ कस्बा बावड़ा, भोसलेवाड़ी, रिवरसाइड पर गन्ना काटने का काम रोक दिया गया है।

द टाइम्स ऑफ इंडिया में प्रकाशित खबर के मुताबिक, वडणगे के एक किसान रवींद्र जगताप ने कहा, गुरुवार की सुबह, मैंने पंचगंगा नदी पार करके हमारे गांव की ओर एक बाइसन को आते देखा। यह पोवार पानंद क्षेत्र में बस गया। मैंने अपने खेत के मजदूरों को अपने घर वापस जाने के लिए कहा। उन्होंने कहा, भुएवाड़ी में एक युवक की मौत अभी भी हमारे जेहन में ताजा है और मैं अपनी या दूसरों की जान जोखिम में नहीं डालना चाहता। साल के इस समय जहां आमतौर पर खेतों में कामगारों की भीड़ रहती है, वहीं पिछले दो दिनों में कुछ ही किसान खेतों में काम करते देखे गए। चिखली गांव के पुंडलिक माने ने कहा, बायसन एक मूक जानवर है और तब तक हमला नहीं करता जब तक उसे खतरा महसूस न हो। हालांकि मैंने गन्ना काटने वालों को समझाने की कोशिश की, लेकिन बायसन के डर से उन्होंने काम करने से मना कर दिया। मैं कुछ जोखिम उठाकर अपने खेत में अकेले काम कर रहा हूं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here