1 अक्टूबर से लोन हो जाएगा सस्ता…

Listen to this article

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कस्टमरों को एक बड़ी राहत दी है। RBI ने सभी बैंकों को सख्त कहा है कि जैसे ही रेपो रेट कम किये जायेंगे वैसे ही सभी बैंकों को भी कर्जदारों के ब्याज दरों को कम करना होगा। RBI ने सभी बैंकों को सर्कुलर जारी करते हुए कहा है कि पर्सनल लोन, होम लोन, रिटेल लोन और MSME सेक्टर को सभी नए लोन अब एक्सटर्नल बेंचमार्क से जोड़े जाएंगे। इससे लोन लेने वालों को ब्याज दरों में कटौती का लाभ मिलेगा।

बैंकों को कहा गया है कि वे RBI के रीपो रेट, 3 महीने या 6 महीने के ट्रेजरी बिल यील्ड्स या फाइनैंशल बेंचमार्क्स इंडिया द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले किसी बेंचमार्क रेट में से किसी एक का चुनाव कर सकते हैं।

RBI ने सभी बैंकों को एक सर्कुलर जारी करते हुए अनिवार्य कर दिया है कि वे 1 अक्टूबर 2019 से रिटेल, होम,पर्सनल, MSME सेक्टर को दिए जाने वाले नए लोन को फ्लोटिंग ब्याज दर को एक्सटर्नल बेंचमार्क से जोड़ दें।

हमेशा से ऐसी शिकायतें मिलती रही है की रिजर्व बैंक द्वारा रेपो दर में कटौती के बावजूद उसका पूरा लाभ बैंक उपभोक्ताओं को नहीं दे रहे हैं।

यह न्यूज़ सुनने के लिए इमेज के निचे के बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here