महाराष्ट्र: राज्य में सक्रिय कोविड मामलों में से ‘गन्ना बेल्ट’ में 53 प्रतिश मामले

94

पुणे: कोरोना के मामलें पिछले महीनों से तो महाराष्ट्र में बेहतर है लेकिन अभी भी कुछ जिलों में सुधार की जरुरत है।

Thehindubusinessline.com में प्रकाशित खबर के मुताबिक, महाराष्ट्र के कुल 82,056 सक्रिय कोविड -19 मामलों (राज्य सरकार के स्वास्थ्य पोर्टल के अनुसार, 28 जुलाई सुबह तक) में से 43,818, यानी लगभग 53.4 प्रतिशत मामले, पश्चिमी महाराष्ट्र के पांच जिलों से हैं, जिन्हें राज्य के ‘गन्ना बेल्ट’ के रूप में जाना जाता है। राज्य के चीनी क्षेत्र में पुणे, कोल्हापुर, सांगली, सतारा और सोलापुर शामिल हैं, और ये पांच जिले राज्य में सक्रिय कोविड मामलों की सूची में शीर्ष पर हैं। जिनमें पुणे 15,344 पर चार्ट में सबसे आगे है, इसके बाद कोल्हापुर (8,749), सांगली (8,348), सतारा (7,271) और सोलापुर (4,106) हैं।हालांकि, पुणे की मृत्यु दर 1.7 प्रतिशत है, जबकि कोल्हापुर (2.8 प्रतिशत) और सांगली (2.7 प्रतिशत) उच्चतम मृत्यु दर वाले जिले हैं। नांदेड़ जिले में सबसे अधिक 2.9 प्रतिशत मृत्यु दर है।

कोल्हापुर और सांगली राज्य में रिकवरी दर चार्ट में सबसे नीचे हैं, जहां रिकवरी दर 92.6 प्रतिशत है, जो राज्य के औसत 96.5 प्रतिशत से भी कम है। सक्रिय मामलों के चार्ट में शीर्ष पर होने के बावजूद, पुणे में रिकवरी दर 96.9 प्रतिशत है। कोल्हापुर, सांगली और सतारा जिले के कुछ हिस्से बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं। बाढ़ के पानी के कारण टीकाकरण अभियान रोक दिया गया है। पिछले दो दिनों में बाढ़ का पानी कम हुआ है, लेकिन कई लोग अस्थायी शिविरों में रह रहे हैं। ‘आईएमडी’ ने अगले कुछ दिनों में और बारिश की चेतावनी दी है।

व्हाट्सप्प पर चीनीमंडी के अपडेट्स प्राप्त करने के लिए, कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें.
WhatsApp Group Link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here