महाराष्ट्र चीनी आयुक्त ने पेराई शुरू करने के लिए 25 नवंबर की सिफारिश की…

254

पुणे / कोल्हापुर : चीनी मंडी

महाराष्ट्र में चुनावी गतिविधियों के कारण पेराई सीजन शुरू करने पर बना हुआ सस्पेंस आख़िरकार खत्म होता नजर आ रहा है। महाराष्ट्र में अब केंद्र द्वारा राज्य में राष्ट्रपति शासन लागू किया गया है, इसके चलते पेराई सीजन शुरू करने के लिए मंत्री समिति की बैठक अब नही हो सकती, इसके चलते चीनी आयुक्त कार्यालय ने राज्य में गन्ना पेराई सत्र शुरू करने के लिए 25 नवंबर की तारीख की सिफारिश की है। राज्य में अब तक, 89 चीनी मिलों को पेराई शुरू करने के लिए लाइसेंस जारी किए गए हैं, जबकि 72 लाइसेंस पाइपलाइन में हैं।

कर्नाटक या उत्तर प्रदेश के विपरीत, महाराष्ट्र में चीनी मिलें मंत्रिस्तरीय समिति द्वारा तय तिथि के बाद ही अपना परिचालन शुरू कर सकती हैं। समिति, जिसके मुख्यमंत्री प्रमुख होते है, चीनी उद्योग को नियंत्रित करने वाले विभिन्न नीति-संबंधी मुद्दों के बारे में भी निर्णय लेती है। राज्य विधानसभा चुनाव के नतीजों का ऐलान होकर 15 दिन से ज्यादा का समय बीत चुका है, लेकिन महाराष्ट्र में राजनीतिक गतिरोध एक स्थिर सरकार के गठन को देखने में विफल रहा है। राजनीतिक स्थिति अभी भी बिखरी हुई है। पेराई सीजन को हो रही देरी को देखते हुए तत्काल समाधान के लिए, चीनी आयुक्त कार्यालय ने 25 नवंबर को पेराई सत्र शुरू करने के लिए सरकार से सिफारिश की है।

इस साल महाराष्ट्र की गन्ने की फसल को भारी बारिश और सूखे के कारण काफ़ी नुकसान पहुंचा है। सांगली, कोल्हापुर में बाढ़ ने गन्ना फसल को पूरी तरह से बर्बाद किया है, जबकि 2018 के सूखे ने मराठवाड़ा में गन्ना की पर्याप्त कमी को जन्म दिया था। अक्टूबर के अंत में भारी बारिश से खेतों में जल-जमाव हो गया था, जिसके बारे में मिलरों ने कहा कि, पेराई सत्र शुरू होने में देरी होगी। इस बीच, महाराष्ट्र राज्य सहकारी चीनी मिल फेडरेशन ने पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस को लिखा है कि, वे राज्यपाल से चीनी मिलों को 15 नवंबर से परिचालन शुरू करने की अनुमति देने का अनुरोध करें। कोल्हापुर में, स्वाभिमानी शेतकारी संघठन ने डी. वाय. पाटिल सहकारी चीनी मिल के गन्ने की कटाई शुरू करने के फैसले के खिलाफ विरोध किया है।

पेराई शुरू करने के लिए 25 नवंबर की सिफारिश यह न्यूज़ सुनने के लिए प्ले बटन को दबाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here